कोरोना वायरस: श्रीनगर में कोरोना वायरस के चार और संक्रमित, आंकड़ा 18 तक पहुंचा

2020-03-27T19:23:39.98

जम्मू: जम्मू कश्मीर में कोरोना वायरस से चार और संक्रमित पाए गए हैं। चारों मामले श्रीनगर से सामने आए हैं। इसी के साथ अब प्रदेश में कोरोना से संक्रमितों का आंकड़ा 18 तक पहुंच गया है। इनमें से दो का विदेश यात्रा का इतिहास है, जबिक बाकी के दो संक्रमित हाल ही में अन्य राज्यों से लौटे हैं। गुरुवार को कश्मीर संभाग में कोरोना वायरस से पहली मौत की खबर आई थी। इसके बाद प्रशासन ने सख्ती और भी बढ़ा दी है। वहीं लद्दाख में अब तक 13 मामले सामने आ चुके हैं। 

 

रोहित कंसल ने ट्वीट किया, ‘कश्मीर में और चार लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि, सभी श्रीनगर जिले के रहने वाले हैं... इनमें से दो लोग हाल ही में विदेश से लौटे हैं, जबकि दो अन्य धार्मिक जलसे के लिए जम्मू-कश्मीर से बाहर गए थे।' इसके साथ ही केन्द्र शासित प्रदेश में अभी तक 18 लोगों में कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। क्षेत्र में संक्रमण से एक व्यक्ति की मौत हुई है जबकि एक व्यक्ति इलाज के बाद स्वस्थ हो गया है। ऐसे में फिलहाल 16 संक्रमित लोगों का इलाज चल रहा है। इनमें से 12 मामले घाटी के हैं। केन्द्र शासित प्रदेश में करीब 1,200 ऐसे लोगों की पहचान कर उन्हें पृथक केन्द्रों में भेजा गया है जो कोरोना वायरस संक्रमण से प्रभावित देशों की यात्रा करके हाल ही में लौटे हैं। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया कि 300 जवानों के बैच का प्रशिक्षण पूरा होने के बाद उन्हें भी कठुआ स्थित पृथक केन्द्र में भेज दिया गया है।

 

 

वहीं, श्रीनगर के हैदरपुरा इलाके के 65 वर्षीय शख्स की वीरवार बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस से मौत हो गई। जम्मू कश्मीर में इस संक्रमण से मौत का यह पहला मामला है। देश में संक्रमितों का आंकड़ा 873 के पार पहुंच गया है और अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है। उसके संपर्क में आए चार लोग भी कल संक्रमित पाए गए थे। जम्मू-कश्मीर के विभिन्न भागों में करीब 1,200 ऐसे लोगों की पहचान की गई है जो कोरोना वायरस संक्रमण से प्रभावित देशों से लौटे हैं। वे जहां भी थे, उन्हें वहां से लाकर पृथक केन्द्र में रखा गया है। उन सभी को आधिकारिक पृथक केन्द्रों में रखा गया है।' उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग उन सभी लोगों की पहचान करने में जुटा है जो कोरोना वायरस संक्रमण से मरे व्यक्ति के संपर्क में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर आए थे। उन्होंने लोगों से अनुरोध किया है कि उक्त व्यक्ति के संपर्क में आए सभी लोग स्वयं प्रशासन को सूचित करें, क्योंकि ऐसा नहीं करना घातक/जानलेवा सिद्ध हो सकता है। वहीं रियासी जिले में पुलिस ने शुक्रवार को लॉकडाउन का उल्लंघन करने के सिलसिले में नोवाबाद जामा मस्जिद के इमाम मौलवी मोहम्मद जाफर और अन्य लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। एक अन्य मामले में पुलिस ने आदेश का उल्लंघन कर दुकान खोलने को लेकर रमेश कुमार नामक दुकानदार के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है। हालांकि, लॉकडाउन के मद्देनजर जारी आदेश के बाद आज जम्मू-कश्मीर के ज्यादातर मस्जिदों, दरगाहों पर जुमे की नमाज नहीं हुई और सभी जगह बंद रहीं।

PunjabKesari 

जम्मू कश्मीर में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 18 हो गए। बुलेटिन के अनुसार, इसके अलावा संदिग्ध मामलों/मरीजों के संपर्क में आने वाले 5,763 लोगों को निगरानी में रखा गया है। उसमें कहा गया है कि कुल 5,763 लोगों में से 3,036 लोगों को उनके घरों में ही पृथक रखा गया है जबकि 169 लोगों को अस्पतालों में पृथक रखा गया है, बाकि लोगों को अन्य सरकारी केन्द्रों में रखा गया है। बुलेटिन के अनुसार, 1,877 लोग अभी भी घरों में पृथक है, जबकि 581 लोगों की निगरानी अवधि पूरी हो चुकी है। उसमें कहा गया है कि 423 लोगों के नूमने जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 400 की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आयी है।


Author

rajesh kumar

Related News