गर्भवती महिला के लिए मसीहा बने सेना के जवान, एयरलिफ्ट कर बचाई जान

2020-01-19T19:04:49.917

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी का दौर जारी है। जिसके कारण लोगों को यहां काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। भारी बर्फबारी के बीच भारतीय सेना स्थानीय लोगों के लिए मसीहा बने हुए हैं। बता दें कि गुरेज सेक्टर में बीमार गर्भवती महिला को सेना के जवानों ने अस्पताल पहुंचाया। भारी बर्फबारी से गुरेज सेक्टर में यातायात की सुविधा नहीं थी। इतना ही नही उन्होंने गर्भवती महिला को बेहतर इलाज के लिए हवाई रास्ते से दूसरी जगह शिफ्ट किया। इस तरह महिला को बेहतर उपचार उपलब्ध हो सका।

PunjabKesari
वहीं इससे पहले भारतीय सेना के जवानों ने बारामूला में शमीमा नाम की एक गर्भवती महिला की जिंदगी बचाई थी। परिवार की मदद की गुहार पर लगभग 100 जवानों व 30 स्थानीय नागरिकों ने लगातार 6 घंटे चलकर महिला को अस्पताल में भर्ती करवाया था। इस दौरान पीएम मोदी ने भी सेना की बहादुरी की मिसाल पर ट्वीट कर कहा था कि हमारी सेना को उसकी वीरता, प्रोफेशनलिज्म और मानवता के लिए जाना जाता है। जब भी लोगों को जरूरत होता है तो हमारी सेना हरसंभव मदद करती है। हमें सेना पर गर्व है।

PunjabKesari

कुपवाड़ा में 75 साल के बुजुर्ग की सेना ने बचाई थी
उल्लेखनीय है कि बीते दिन कुपवाड़ा के लालपोरा में भारी बर्फबारी में 75 साल के बुजुर्ग को बचाने के लिए सेना के जवानों ने 2 किलोमीटर का सफर तय कर किया था। बता दें कड़ाके की ठंड में जब सेना के जवान उस बुजुर्ग के पास पहुंचे तो उनकी हालत काफी खराब थी। जिसके बाद सेना के जवानों ने बुजुर्ग को अस्पताल में भर्ती करवाया था, जिसका वीडियो भारतीय सेना की चिनार क्रॉप्स ने शेयर किया था।

 


Author

rajesh kumar

Related News