ओपेक और सहयोगी देश तेल उत्पादन में मामूली वृद्धि बनाये रखेंगे

punjabkesari.in Thursday, Dec 02, 2021 - 09:09 PM (IST)

वाशिंगटन, दो दिसंबर (एपी) तेल निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) और उसके सहयोगी तेल उत्पादक देशों ने कोरोनावायरस के नये स्वरूप ओमीक्रोन को लेकर बढ़ती चिंता के बीच बृहस्पतिवार को अपने तेल उत्पादन में मामूली मासिक वृद्धि बनाए रखने पर सहमति जताई।
कोविड-19 के इसे नये स्वरूप के सामने आने से वैश्विक आर्थिक पुनरूद्धार को लेकर अनिश्चतता की स्थिति बनी है।

सऊदी अरब की अगुवाई में ओपेक देशों के प्रतिनिधियों और रूस की अगुवाई में उनके सहयोगी देशों ने बृहस्पतिवार को तेल उत्पादन में पहले की तरह हल्की मासिक वृद्धि जारी रखने के पक्ष में मतदान किया।
ईंधन के दाम में तेजी को देखते हुए अमेरिका और अन्य प्रमुख तेल उत्पादक देश चाहते थे कि ओपेक और उसके सहयोगी देश तेल उत्पादन बढ़ाएं।

कुछ विश्लेषकों ने अनुमान जताया था कि ओपेक और उसके सहयोगी देश तेल उत्पादन की रणनीति को लेकर सतर्क रुख अपना सकते हैं। वे कोई भी निर्णय करने से पहले कोरोनावायरस के नये स्वरूप के बारे में स्वास्थ्य विशेषज्ञों से और स्पष्टता चाहेंगे।

रिस्टैड एनर्जी के वरिष्ठ तेल बाजार विश्लेषक लुईस डिक्सन ने कहा कि ओपेक और उसके सहयोगी देश अपनी उत्पादन रणनीति में कोई महत्वपूर्ण बदलाव करने से पहले मौजूदा टीकों की असरकारिता का पता लगाने को लेकर और आंकड़ों की प्रतीक्षा करने के लिए तैयार हैं।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का भाव 70 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर रहा जबकि एक हफ्ते पहले यह 79 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर था।


एपी


सऊदी अरब के नेतृत्व में ओपेक देशों के अधिकारियों और रूस के नेतृत्व में उनके सहयोगियों ने तेल रिलीज में स्थिर, मामूली मासिक वृद्धि के प्री-ओमाइक्रोन पैटर्न के साथ रहने के लिए गुरुवार को मतदान किया।

रमण प्रेम 0212 2103 वाशिंगटन

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News