Nobel Prize 2022: फ्रांसीसी लेखिका एनी एरनॉक्स ने जीता साहित्य में नोबेल पुरस्कार

punjabkesari.in Thursday, Oct 06, 2022 - 10:19 PM (IST)

स्टॉकहोमः इस साल साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार फ्रांसीसी लेखिका एनी एरनॉक्स को “साहस और लाक्षणिक ​​तीक्ष्णता के साथ व्यक्तिगत स्मृति के अंतस, व्यवस्थाओं और सामूहिक बाधाओं को उजागर करने” वाली उनकी लेखनी के लिये दिया गया है। स्वीडिश अकादमी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। 

एरनॉक्स लेखिका बनने से पहले एक शिक्षिका के तौर पर करती थीं काम 
एरनॉक्स की किताबें लिंग और वर्ग से विभाजित समाज के भीतर व्यक्तिगत अनुभवों और भावनाओं - प्रेम, सेक्स, गर्भपात, शर्म - की गहराई से पड़ताल करती हैं। वह गर्भपात और गर्भनिरोधक के लिए महिलाओं के अधिकारों का पुरजोर बचाव करती हैं एरनॉक्स (82) पूर्ण कालिक लेखिका बनने से पहले एक शिक्षिका के तौर पर काम करती थीं। उनकी 20 से अधिक पुस्तकें हैं जिनमें से अधिकांश बहुत छोटी, उनके जीवन की घटनाओं और उनके आसपास के लोगों के जीवन की घटनाएं हैं। ये किताबें यौन टकराव, गर्भपात, बीमारी और उनके माता-पिता की मृत्यु की बेलाग तस्वीर पेश करती हैं। 

साहित्य के लिए नोबेल समिति के अध्यक्ष एंडर्स ओल्सन ने कहा कि एरनॉक्स का काम अक्सर “खरा और साधारण भाषा में लिखा बेदाग होता है।” उन्होंने कहा कि एरनॉक्स “एक बेहद ईमानदार लेखिका है जो कड़वी सच्चाइयों का सामना करने से नहीं डरती हैं।” स्टाकहोम में पुरस्कार की घोषणा के बाद उन्होंने कहा, “वह उन चीजों के बारे में लिखती है जिनके बारे में कोई और नहीं लिखता है, उदाहरण के लिए अपने गर्भपात, अपनी ईर्ष्या, एक परित्यक्त प्रेमिका के रूप में अनुभव आदि। मेरा मतलब है, वास्तव में कठिन अनुभव।” 

पुरस्कार पाकर बेहद खुश हैं लेकिन हैरान नहीं- एरनॉक्स
पुरस्कार मिलने के बाद एरनॉक्स ने कहा कि वह पुरस्कार पाकर बेहद खुश हैं लेकिन “हैरान नहीं हैं”। बतौर पुरस्कार उन्हें एक करोड़ स्वीडिश क्रोनर (करीब 9,00,000 अमरीकी डालर) की रकम भी मिलेगी। पेरिस के पश्चिम में स्थित कस्बे केर्गी में अपने घर के बाहर जुटे पत्रकारों से उन्होंने कहा, “मैं बहुत खुश हूं, गौरवान्वित हूं। वोएला, बस।” 

एरनॉक्स साहित्य का नोबेल जीतने वाली पहली फ्रांसीसी महिला लेखिका
फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने ट्वीट किया, “एनी एरनॉक्स 50 वर्षों से हमारे देश की सामूहिक और अंतरंग स्मृति पर उपन्यास लिख रही हैं। उनकी आवाज महिलाओं की आजादी और सदी की भूली-बिसरी आवाजों की है।” एरनॉक्स साहित्य का नोबेल जीतने वाली पहली फ्रांसीसी महिला लेखिका हैं और कुल 119 नोबेल साहित्य पुरस्कार प्राप्त करने वालों में शामिल 17वीं महिला हैं। 

“ला प्लेस” (एक पुरुष की जगह) से सुर्खी पाने वाली एरनॉक्स ने इसमें पिता के साथ अपने संबंधों के बारे में लिखा है : “कोई गीतात्मक स्मरण नहीं, विडंबना का कोई उत्साहजनक प्रदर्शन नहीं। यह तटस्थ लेखन शैली मुझमें स्वाभाविक रूप से है।” 

आलोचकों के बीच में बेहद सराही गई उनकी किताब “द इयर्स” 2008 में प्रकाशित हुई थी और इसमें उन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध के अंत से लेकर आज तक खुद का और व्यापक फ्रांसीसी समाज का वर्णन किया है। अपनी पूर्व की किताबों से इतर एरनॉक्स ने “द इयर्स” में तीसरे व्यक्ति के तौर पर अपने बारे में लिखा है और अपने चरित्र को “मैं” की जगह “वह” कहकर संबोधित किया है। किताब को कई पुरस्कार और सम्मान मिले हैं। 

निएंडरथल डीएनए के रहस्यों को उजागर करने वाले वैज्ञानिक को सम्मानित करने वाले चिकित्सा पुरस्कार के साथ सोमवार को नोबेल पुरस्कार की घोषणाओं का सप्ताह शुरू हो गया। तीन वैज्ञानिकों ने संयुक्त रूप से मंगलवार को भौतिकी में इस खोज के लिए यह पुरस्कार जीता कि छोटे कण अलग होने पर भी एक दूसरे के साथ संबंध बनाए रख सकते हैं। 

रसायन विज्ञान में इस वर्ष का नोबेल पुरस्कार कैरोलिन आर बर्टोज्जी, मोर्टन मेल्डल और के. बैरी शार्पलेस को समान भागों में ‘अणुओं के एक साथ विखंडन' का तरीका विकसित करने के लिए बुधवार को प्रदान किया गया था। नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा शुक्रवार और तथा अर्थशास्त्र के लिये नोबेल पुरस्कार की घोषणा 10 अक्टूबर को की जाएगी। यह पुरस्कार 10 दिसंबर को प्रदान किए जाएंगे। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Related News

Recommended News