भारतीय-अमेरिकी रिचर्ड वर्मा को अपने खुफिया सलाहकार बोर्ड में शामिल करना चाहते हैं बाइडेन

punjabkesari.in Thursday, May 05, 2022 - 10:33 AM (IST)

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने भारतीय-अमेरिकी रिचर्ड वर्मा को अपने खुफिया सलाहकार बोर्ड में शामिल करने की इच्छा जाहिर की है। व्हाइट हाउस ने यह जानकारी दी। राष्ट्रपति का खुफिया सलाहकार बोर्ड उनके शासकीय कार्यालय में एक स्वतंत्र निकाय है। वर्मा अभी ‘जनरल काउंसिल' और ‘ग्लोबल पब्लिक पॉलिसी फॉर मास्टरकार्ड' के प्रमुख हैं। इस पद पर रहते हुए वह अमेरिका और दुनिया भर में कम्पनी के कानून और नीति संबंधी कार्यों का जिम्मा संभालते हैं।

 

व्हाइट हाउस ने बुधवार को कहा, ‘‘ उन्होंने पहले भारत में अमेरिकी राजदूत के रूप में कार्य किया, जहां उन्होंने सबसे बड़े अमेरिकी राजनयिक मिशन में से एक का नेतृत्व किया और द्विपक्षीय संबंधों में ऐतिहासिक प्रगति पर भी जोर दिया।'' सीनेट के बहुमत नेता के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार वर्मा पूर्व में अमेरिकी वायु सेना में भी सेवाएं दे चुके हैं।

 

उन्हें कई सैन्य और नागरिक पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है, जिनमें ‘मेरिटोरियस सर्विस मेडल' और विदेश मंत्रालय का ‘डिस्टिंगुइश्ड सर्विस अवार्ड' शामिल हैं। व्हाइट हाउस के अनुसार, एडमिरल (सेवानिवृत्त) जेम्स ए. ‘सैंडी' विन्नेफेल्ड को राष्ट्रपति के खुफिया सलाहकार बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। गिलमैन जी. लुई और जेनेट ए. नेपोलिटानो को बोर्ड के सदस्य के रूप में नियुक्त किया गया है।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News