अमेरिका में बच्चों का दुश्मन बना कोरोना, पाक के कराची में 40 फीसदी पहुंची संक्रमण दर

punjabkesari.in Tuesday, Jan 18, 2022 - 11:41 AM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः अमेरिका में कोविड महामारी बच्चों की दुश्मन बनी हुई है, जो पूरी दुनिया के लिए खतरे का संकेत है। यूनाइटेड स्टेट सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में कोविड महामारी की शुरुआत के बाद मौजूदा दौर में बच्चे सबसे ज्यादा प्रभावित हो रहे हैं।  CDC का दावा है अब भी बच्चों की अस्पताल में भर्ती होने की कुल दर वयस्कों की तुलना में काफी कम है। लेकिन, आशंका है कि आने वाले हफ्तों में बच्चों कोविड संक्रमण और तेजी से बढ़ेगा, जिससे उनके अस्पताल में भर्ती होने की दर भी बढ़ेगी।CDC ने पांच साल और उससे अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए कोविड वैक्सीन लगवाने की सलाह दी है, ताकि महामारी से बचाव में मदद मिल सके।

 

बच्चों में संक्रमण कारण अस्पताल में भर्ती होने के मामले कई गुना बढ़े
अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के आकलन के मुताबिक दिसंबर 2021 के आखिर सप्ताह से अब-तक बच्चों में संक्रमण और गंभीर संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती होने के मामले कई गुना बढ़े हैं, हालांकि, इसके सटीक आंकड़े जारी नहीं किए जा रहे हैं, ताकि बच्चों को लेकर अभिभावकों में गैरजरूरी चिंताएं और तनाव नहीं बढ़े। अमेरिका में बीते एक दिन में तीन लाख 37 हजार 884 नए मामले आए, इनके अलावा देश में कुल 6.58 करोड़ कुल संक्रमित सामने आ चुके हैं, जिनमें से 8.5 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में फिलहाल 1.44 लाख से ज्यादा लोग कोविड संक्रमण की वजह से अस्पतालों में भर्ती हैं, जिनमें से करीब 25 हजार की स्थिति गंभीर है।

 

पाक के इस शहर कराची में 40 फीसदी पहुंची संक्रमण दर
पाकिस्तान में कोविड संक्रमण भयावह हो चला है। बीते एक दिन में कराची में कोविड संक्रमण दर बढ़कर 40 फीसदी के करीब पहुंच गई। वहीं, पूरे पाकिस्तान में यह करीब 8.7 फीसदी है। पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक सोमवार को पाकिस्तान में कोविड संक्रमण के 4,340 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से रिपोर्ट में बताया गया है कि कराची में संक्रमण दर 39.39 फीसदी पहुंच गई है। इसके अलावा इनमें से 95 फीसदी मामले ओमिक्रॉन वैरिएंट के हैं।

 

 500 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी  संक्रमित
कराची में 500 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी कोविड संक्रमित हो चुके हैं, जिसकी वजह से इलाज भी प्रभावित हो रहा है। चिकित्साकर्मियों की तरफ से बार-बार हालात के बारे में आगाह करने के बाद भी प्रशासन की तरफ से कोई कदम नहीं उठाए गए हैं। पाकिस्तान में अब-तक कोविड संक्रमण के 13 लाख मामल दर्ज किए गए हैं, जबकि 29,019 मौत हुई हैं। हालांकि, पाकिस्तान में कम मामलों के पीछे कम जांच और औपचारिक स्वास्थ्य ढांचे की कमी है, जबकि संक्रमितों की वास्तविक संख्या व इससे होने वाली मौतें कई गुना ज्यादा हो सकती हैं।

 

नेपाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,747 नए मामले
नेपाल में कोरोना वायरस के 5,747 नए मामले सामने आए हैं, जो 2021 के मध्य से सर्वाधिक दैनिक मामले हैं। देश में संक्रमितों की कुल संख्या 8,59,485 हो गई है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि संक्रमण से तीन और लोगों की मौत होने के बाद देश में कुल मृतक संख्या 11,623 हो गई है। देश में 5,747 और लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 30,877 हो गई। देशभर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8,59,485 हो गई है। देश में 2021 के मध्य के बाद से ऐसा पहली बार हुआ है, जब 5,700 से अधिक दैनिक मामले सामने आए हैं। 


 
अमेरिका फ्रांस और ब्रिटेन में घटने लगा संक्रमण
यूरोप में कोविड संक्रमण के केंद्र बने फ्रांस और ब्रिटेन में भी बीते दो-तीन दिन की तुलना में संक्रमण के कम मामले सामने आए।  बीते एक दिन में फ्रांस में जहां दो लाख 78 हजार 129 नए संक्रमित मिले हैं, वहीं ब्रिटेन में इस दौरान 70,160 नए मामले मिले हैं। जबकि, इससे पहले चार जनवरी को ब्रिटेन में नए मामले 2.18 लाख आए थे, वहीं फ्रांस में 11 जनवरी को 3.59 लाख मामले आए थे। गंभीर कोविड संक्रमण की वजह से अमेरिका में हर दिन 17 वर्ष से कम उम्र के 893 बच्चे अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। सीडीसी के आंकड़ों से पता चलता है कि देश में एक अगस्त, 2020 से 13 जनवरी, 2022 के दौरान 17 वर्ष या इससे कम उम्र के 90,000 से अधिक बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका है। इनमें भी ज्यादातर बच्चे नवजात से लेकर चार वर्ष की उम्र के हैं, जिनका टीकाकरण शुरू नहीं किया गया है।

 

ऑस्ट्रेलिया में मंगलवार को  रिकॉर्ड मौतें दर्ज
ऑस्ट्रेलिया में मंगलवार को कोविड-19 से रिकॉर्ड मौत दर्ज की गई और इसके दूसरे सबसे बड़े राज्य ने अस्पतालों में आपात स्थिति की घोषणा की जो कोरोना वायरस के चलते भर्ती मरीजों की संख्या बढ़ने और स्टाफ की कमी से जूझ रहे हैं। तीन सबसे अधिक आबादी वाले राज्यों में 74 मरीजों की मौत हुई। न्यू साउथ वेल्स में 36, विक्टोरिया में 22 और क्वींसलैंड में 16 मरीजों की मौत हुई। इससे पहले एक दिन में कोरोना वायरस के कारण सर्वाधिक 59 लोगों की मौत चार सितंबर, 2020 को हुई थी। संघीय स्वास्थ्य मंत्री ग्रेग हंट ने कहा कि ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि न्यू साउथ वेल्स में संक्रमण की दर चरम पर पहुंच रही है और विक्टोरिया में स्थिर होने वाली है। न्यू साउथ वेल्स की सरकार ने बेहद संक्रामक ओमीक्रोन स्वरूप से निपटने के लिए लॉकडाउन लगाने की संभावना से इनकार किया है।

 

अक्टूबर में, सिडनी ने 108 दिनों का लॉकडाउन हटाया था क्योंकि ऑस्ट्रेलिया के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य में ज्यादातर लोगों का टीकाकरण हो चुका था।विक्टोरिया ने राज्य की राजधानी मेलबर्न के अस्पतालों और कई क्षेत्रीय अस्पतालों में स्टाफ की कमी और मरीजों के भर्ती होने में वृद्धि के कारण बुधवार दोपहर से आपातकाल घोषित कर दिया। लगभग 5,000 कर्मचारी अनुपस्थित हैं क्योंकि वे या तो संक्रमित हैं या करीबी संपर्क में हैं। यह पहली बार है जब राज्य के कई अस्पतालों में आपात स्थिति लगा दी गई है। करीब 2.6 करोड़ की आबादी वाले ऑस्ट्रेलिया में 2,700 लोगों की कोविड-19 के कारण मौत हो चुकी है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News