पंचकूला स्थित मेसर्स फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन इंडिया पर छापा

punjabkesari.in Thursday, May 19, 2022 - 09:05 PM (IST)

चंडीगढ़, (अर्चना सेठी): हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज, जिनके पास खाद्य एवं औषधि प्रशासन का प्रभार भी है, ने कहा कि एफडीए की टीम ने 62-सी, हरिपुर, गली नंबर-14, पंचकूला स्थित मेसर्स फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन इंडिया पंचकुला पर छापा मारा और विभिन्न उल्लंघना के तहत दवाइयों के सैंपल लेकर दवाईयों को जब्त करके सील कर दिया गया है। 

 

विज ने बताया कि परवीन कुमार, डीसीओ, पंचकूला और डॉ. विकास गुप्ता, डिप्टी  सीएमओ, पंचकूला की टीम ने एमटीपी किट/एलोपैथिक दवाओं की खरीद/बिक्री/उपयोग के निरीक्षण के लिए 62-सी, हरिपुर, गली नंबर-14, पंचकूला स्थित मेसर्स फैमिली प्लानिंग एसोसिएशन इंडिया पंचकुला शाखा का दौरा किया। टीम ने इस केंद्र में श्री मनोज कुमार पुत्र श्री दीप चंद को उपस्थित पाया, उसने खुलासा किया कि वह इस केंद्र के महाप्रबंधक हैं। पहचान और उनसे मिलने के उद्देश्य का खुलासा करने के बाद टीम ने परिसर की तलाशी ली।  उन्होंने बताया कि टीम को दूसरी मंजिल पर तलाशी के दौरान एक कमरे में नशीला पदार्थ रखा मिला है। मनोज कुमार ने प्रस्तुत किया कि यह सिविल सर्जन, पंचकुला द्वारा पंजीकृत एमटीपी केंद्र है और स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ नितिका गोयल, एमबीबीएस यहां अभ्यास कर रही है।

 

 

तलाशी के दौरान परिसर में कई दवाओं का स्टॉक पाया गया जिनमें:-

-ए-करे किट (मिफेप्रिस्टोन टैबलेट आईपी और मिसोप्रोस्टोल टैबलेट आईपी का कॉम्बिपैक) मात्रा-369 किट।

 -Atocin-500 टैबलेट (Azithromycin टैबलेट IP 500 mg), मात्रा-134X3 टैबलेट।

 -मिसो-करे टैबलेट (मिसोप्रोस्टोल टैबलेट आईपी 200 एमसीजी, मात्रा-1512 टैबलेट)। 

 

 

उन्होंने बताया कि टीम को मनोज कुमार दवाओं का खरीद रिकॉर्ड पेश नहीं कर सका। परवीन कुमार, डीसीओ, पंचकूला द्वारा परीक्षण और विश्लेषण के उद्देश्य से फॉर्म-17 के तहत तीन प्रकार के नमूने लिए हैं।  शेष दवाओं को जब्त कर फॉर्म-15 के तहत सील कर दिया गया है।  केंद्र पंजीकृत चिकित्सक के नाम के बजाय परिवार नियोजन संघ भारत के नाम पर दवाओं की खरीद कर रहा है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Archna Sethi

Related News

Recommended News