युवाओं को कौशल विकास में निपुण बनाने पर जोर

punjabkesari.in Monday, May 02, 2022 - 07:09 PM (IST)

चंडीगढ़, (अर्चना सेठी): कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि  युवाओं को तकनीकी रूप से दक्ष बनाना हरियाणा सरकार का मुख्य उद्देश्य है। इसी के चलते लोहारू के रानी लक्ष्मी बाई बहुतकनीकी संस्थान में फार्मेसी और डीएमएलटी जैसे रोजगार परक कोर्स खुलवाए जाएंगे। उन्होने कहा कि युवा ऊंचे लक्ष्य रखकर मेहनत करें, पूरी दुनिया में भारत के युवाओं का डंका बजेगा। इस दौरान उन्होंने वीसी के माध्यम से केंद्रीय उर्वरक मंत्री से बात की और हरिणाणा प्रदेश को उपयुक्त मात्रा में खाद आदि मुहैया करवाने पर आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि किसानों की  खराब हुई फसलों का बीमा क्लेम जल्द ही उनके खातों में डाला जाएगा, इसके लिए वे गत दिवस ही केंद्रीय कृषि मंत्री से मिले है।

 

कृषि मंत्री दलाल स्थानीय रानी लक्ष्मी बाई बहुतकनीकि संस्थान के वार्षिक समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। कृषि मंत्री ने बहु तकनीकी संस्थान में 11 करोड़ रुपए की लागत से निर्माणाधीन टीचिंग ब्लॉक का  निरीक्षण किया और अधिकारियों को निर्देश दिए कि निर्माण सामग्री की गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए इस टीचिंग ब्लॉक का निर्धारित समय अवधि में निर्माण करवाया जाए। उन्होंने घोषणा की कि साथ लगती तीनो शिक्षण संस्थानों के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल से अनुरोध कर करोड़ों रुपए की लागत से एसी इनडोर ऑडिटोरियम का निर्माण करवाया जाएगा और संस्थान परिसर में गड्ढे व टीले ठीक करा कर एक पार्क विकसित किया जाएगा। कृषि मंत्री ने कहा कि तकनीकि रूप से निपुण बनाने को लेकर ही हरियाणा सरकार ने पलवल में कौशल विश्वविद्यालय की स्थापना की है। उन्होंने कहा कि युवाओं को तकनीकी रूप से दक्ष बनाया जाएगा ताकि उनको रोजगार के लिए भटकना न पड़े। उन्होंने कहा कि लोहारू क्षेत्र के युवाओं के समक्ष रोजगार का संकट नहीं बनने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस कॉलेज में भी फार्मेसी और डीएमएलटी जैसे नए कोर्स शुरु करवाएं जाएंगे ताकि यहां के युवा रोजगार परक कोर्स कर अपना काम कर सकें। उन्होंने युवाओं को कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि युवाओं को अपना लक्ष्य चुनकर मेहनत करनी चाहिए। कठिन परिश्रम से सफलता हर हाल में मिलती है। 

 

उन्होंने कहा कि लोहारू में वूल ग्रेडिंग सेंटर को भी फिर से खुलवाने के प्रयास किए जाएंगे। यह क्षेत्र ऊन का हब बनेगा और भेड़पालन को बढावा मिलेगा। उन्होंने कि केंद्र सरकार डीएपी खाद पर प्रतिवर्ष दो लाख करोड़ रुपए सब्सिडी पर खर्च कर रही है। उन्होंने कहा कि डीएपी खाद का एक कट्टे की वास्तविक कीमम 3851 रुपए है, जबकि किसान को यह मात्र करीब 1300 रुपए में मुहैया करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि आज सरसों, धान, जौ और गेहूं की फसल एमएसपी से अधिक दाम पर बिक रही है, जिससे किसानों मे खुशहाली का दौर आया है। कृषि मंत्री  दलाल ने कहा कि चालू खरीफ की फसल के दौरान किसानों को खाद-बीज व पानी की समस्या नहीं बनने दी जाएगी। इस दौरान उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे लोहारू क्षेत्र में निर्माणाधीन सडक़ों का निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करवाएं। उन्होंने कहा कि सरकार आमजन की भलाई के लिए काम रही है।

 

कृषि मंत्री  दलाल ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत आज विश्व के ताकतवर देशों में शूमार है।प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व में भारत की साख बनाई है । कृषि मंत्री जेपी दलाल ने वार्षिक उत्सव में मेधावी छात्रों को पुरस्कार वितरित किए और सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले छात्रों को एक लाख देने की घोषणा कीl संस्थान के प्राचार्य वीरेंद्र सांगवान ने कृषि मंत्री का स्वागत करते हुए संस्थान की प्रगति रिपोर्ट और मांग पत्र प्रस्तुत किया। इससे पहले कृषि मंत्री ने गांव सेरला , बहल ,बरालु आदि गावों का दौरा कर शादी समारोह में शरीक हुए और नवविवाहिता को आशीर्वाद दिया। इस दौरान उन्होंने जन समस्याएं सुनी और समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Archna Sethi

Related News

Recommended News