UPSC और IGNOU PhD प्रवेश परीक्षा एक ही डेट पर होने से असमंजस में छात्र

2020-09-10T14:37:18.16

नई दिल्ली- राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) द्वारा आयोजित की जाने वाली विभिन्न भर्ती परीक्षाओं को कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन के चलते स्थगित कर दिया था लेकिन अब संघ लोक सेवा आयोग की ओर से भर्ती परीक्षाओं का नया शेड्यूल जारी कर दिया है। यूपीएससी के इस नए परीक्षा शेड्यूल के मुताबिक इस साल सिविल सर्विसेज प्रांभिक 4 अक्टूबर 2020 को आयोजित होगी। 

PunjabKesari

वहीं दूसरी ओर इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) की ओर से पीएचडी प्रवेश परीक्षा भी 4 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी। इग्नू यूनिवर्सिटी देश की सबसे बड़ी ओपन यूनिवर्सिटी है। हर साल इग्नू यूनिवर्सिटी में लाखों छात्र एडमिशन के लिए आवेदन करते हैं। इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी सभी तरह के कोर्स उपलब्ध करवाती है। 

PunjabKesari

यूपीएससी और एनटीए सबसे टॉप एजेंसियां हैं जो भारत में परीक्षाएं आयोजित करती हैं। लेकिन इस साल यूपीएससी और इग्नू की परीक्षाएं एक ही तिथि पर आने छात्रों की टेंशन बढ़ गई है। यूपीएससी देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक है। हर साल लाखों युवा इस परीक्षा में शामिल भी होते हैं।

PunjabKesari

संभावना है कि एनटीए परीक्षा को किसी अन्य तिथि पर स्थगित कर सकता है। आमतौर पर जब यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन होता है तो तब देश में एक ही तारीख को कोई परीक्षा नहीं होती है। लेकिन एनटीए इग्नू के लिए पीएचडी प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा।
 


Author

Riya bawa

Related News