See More

UP Board Result- IAS ऑफिसर बनना चाहते है 12वीं के टॉपर अनुराग मलिक

2020-06-28T08:42:50.623

नई दिल्ली- उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से 10वीं और 12वीं कक्षा के परिणाम जारी कर दिए है। इंटरमीडिएट में बागपत के श्री राम एसएम इंटर कॉलेज बड़ौत बागपत के ही अनुराग मलिक ने 97% अंकों के साथ पहला स्थान प्राप्त किया है। एसपी इंटर कॉलेज, शिकरो प्रयागराज की प्रांजल सिंह ने 96% अंकों के साथ दूसरा स्थान हासिल किया है जबकि श्रीगोपाल इंटर कॉलेज औरैया के उत्कर्ष शुक्ला ने 94.80% अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया है।

UP Board Result

आइए जानते हैं- 12वीं के टॉपर अनुराग मलिक कैसे की तैयारी

कौन हैं अनुराग मलिक
-अनुराग ने 12वीं की परीक्षा में 500 में से 485 मार्क्स हासिल किए हैं, उनके घर में खुशी का माहौल है। बता दें, उनके पिता की इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान है। वह अपनी सफलता का श्रेय सेल्फ स्टडी को देते हैं। उन्होंने कहा, “मैंने कक्षा 12 के बोर्ड में टॉप करने की योजना बनाई थी और मैंने किया।

- कक्षा 10 में 92 प्रतिशत अंकों के साथ अपने जिले में टॉप किया था मैंने हमेशा एक लक्ष्य निर्धारित किया है और फिर उसकी ओर काम किया है. मैं भविष्य में एक IAS अधिकारी बनना चाहता हूं।

IAS अधिकारी बनना चाहते अनुराग
अनुराग भविष्य में IAS अधिकारी बनना चाहता है। वह देश की सेवा के लिए सिविल सेवाओं की इच्छा रखते हैं, वे कहते हैं, “भारत में बहुत सारी चीजें हैं जो मैं बदलना चाहता हूं. मैं चाहता हूं कि समाज और अधिक एकजुट और जिम्मेदार हो. अगर मैं सत्ता की स्थिति में हूं तो मैं ऐसा कर सकता हूं. यही कारण है कि मैं बड़ा अफसर बनना चाहता हूं।

UP: Anurag Malik became 12th topper

कैसे की बोर्ड की तैयारी
-बोर्ड की तैयारी के दौरान, मलिक ने बताया, “मैं दिन में 12-14 घंटे पढ़ाई करता था और जब परीक्षा पास होती थी, तो यह 18 घंटे तक हो जाती थी। सेलेबस को पूरा करने के लिए एक समय तय करता था जब तक मैं अपना सेलेबस पूरा नहीं कर लेता था, मैं हिलता नहीं था।

-अनुराग ने कक्षा 12 में अपने विषयों के रूप में अंग्रेजी, हिंदी, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और गणित था और 100 में से 99 अंकों के साथ भौतिकी में सर्वोच्च अंक प्राप्त किए थे।

अनुराग मलिक के पिता का नाम प्रमोद मलिक है और वह बड़ौत के ही रहने वाले हैं। बड़ौत में उनकी इलेक्ट्रॉनिक की दुकान है। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते यूपी बोर्ड के परिणाम जारी करने में थोड़ी देरी हुई है। इस बार यूपी बोर्ड 10वीं कक्षा के लिए 30 लाख 24 हजार 632 विद्यार्थियों नें अपना पंजीकरण कराया था।


Author

Riya bawa

Related News