Saturday special: हर शनिवार करें ये काम, मिलेगा शनिदेव का आशीर्वाद

punjabkesari.in Saturday, May 20, 2023 - 08:04 AM (IST)

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Saturday special: ज्योतिषियों और धर्माचार्यों का कहना है कि यदि आपकी कुंडली में शनि की स्थिति सही नहीं है तो आपको शनिवार के दिन शनि देव की पूजा करनी चाहिए, उन्हें तेल चढ़ाना चाहिए। यहां शनिवार के दिन किए जाने वाले कुछ ऐसे उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनको करने से आपको शनिदेव का आशीर्वाद मिलेगा।

पीपल का उपाय
यदि आपको अपने व्यवसाय में लगातार नुकसान हो रहा है या आप अदालती मामलों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो शनिवार के दिन पीपल के 11 पत्ते लें और इनकी एक माला बना लें। इसके बाद यह माला शनि मंदिर में अर्पित कर दें। माला अर्पित करते समय ‘ऊं श्रीं ह्रीं शं शनैश्चराय नम:’ मंत्र का लगातार जाप करते रहें। ऐसा करने से आपको जल्द लाभ मिलेगा।

PunjabKesari Saturday special

काले तिल का उपाय
दाम्पत्य जीवन में रोज झगड़े की स्थिति पैदा हो रही है और खुशियां गायब हो रही हैं तो इसके लिए शनिवार के दिन थोड़े से काले तिल लेकर पीपल के पेड़ के पास चढ़ाने चाहिएं। ऐसा करने से आपके दांपत्य जीवन में खुशियां आएंगी।

PunjabKesari Saturday special

कोयले का उपाय आजमाएं
आप बेरोजगार हैं और किसी काम की तलाश में हैं या आप व्यवसायरत हैं और अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने की चाह रखते हैं तो शनिवार के दिन एक कोयला लाएं और उसे बहते जल में प्रवाहित कर दें। साथ ही ‘शं शनैश्चराय नम:’ मंत्र का जाप करें। ये उपाय आपके लिए जरूर फलदाई साबित होगा।

भगवान शिव व हनुमान जी की आराधना
शनिवार को भगवान शिव की आराधना करने से शनिदेव की कृपा भी प्राप्त होती है। शनिवार का दिन हनुमान जी की पूजा के लिए भी विशेष माना गया है। शनिवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से हर पीड़ा से मुक्ति मिलती है। जीवन में तरक्की के रास्ते खुलते हैं।

PunjabKesari Saturday special

न खरीदें ये वस्तुएं
शनिवार के दिन लोहा, काली वस्तुएं, छाता, उड़द दाल, चमड़े के जूते नहीं खरीदने चाहिएं। शनिवार के दिन गेंहू पिसवाएं और कुछ काले चने भी इसमें मिला लें। इससे आर्थिक समृद्धि का वरदान मिलता है।

इस दिन किसी से झूठ बोलना, छल करना, किसी को अपमानित करना आदि भूलकर नहीं करना चाहिए, ऐसा करने से शनिदेव क्रोधित हो जाते हैं। 

PunjabKesari kundli
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Related News

Recommended News