Saturday Special: मजदूर बन सकते हैं आपके भाग्य विधाता

01/31/2021 1:18:22 AM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Saturday Vishesh: शनि महाराज जब किसी पर कृपा करते हैं तो उसे निहाल कर देते हैं। शनि देव हमेशा छोटे, असहाय, मजदूरों और गरीबों में वास करते हैं। जिन व्यक्तियों को शनि की दशा, महादशा या अंतर्दशा चल रही है, उन्हें इन लोगों की सेवा करते रहना चाहिए। जो लोग अपने नौकरों, कर्मचारियों और मेहनती लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करते हैं, उन पर शनि महाराज की कृपा बनी रहती है। शनि से संबंधित कार्यों में लाभ प्राप्त करने के लिए शनि को शुभ रखना बहुत जरुरी है।  

PunjabKesari Saturday Ke Upay
Effects Of Shani In Life: अगर आपकी प्रापर्टी या मकान नहीं बन रहा है तो मजदूरों को गुलाब जामुन खिलाएं। आपकी जानकारी के लिए बता दें मकान शनि देव का कारक है, वहीं मजदूर और लेबर शनि को संबोंधित करते हैं। मजदूरों को खुश रखने से शनि शुभ फल देते हैं।
PunjabKesari Saturday Ke Upay
Shani dev worship on saturday : अगर आपको राजनीति में सफलता चाहिए तो वर्कर को सरसों के तेल से बना हुआ भोजन करवाएं। शनि देव अपनी दशा में आपको आपके कर्मों का फल देते हैं और अगर आप अपने से कमजोर और गरीबों की सहायता करते हैं तो शनि की कृपा आपको मिलती है।

PunjabKesari Saturday Ke Upay
What to give Lord Shani Dev: प्रापर्टी में विवाद और कोर्ट-कचहरी के मामलों में भी शनि के उपाय करने से लाभ प्राप्त किया जा सकता है। गरीबों को चप्पलें देना और मजदूरों को रोटी के साथ मीठा देने से लाभ मिलता है।

PunjabKesari Saturday Ke Upay
How to appease Shani Dev: शनि अगर अशुभ फल दे रहे हैं तो आपकी टांगों में समस्याएं हो सकती हैं। टांगों में समस्या होना शनि के अशुभ फल की निशानी है। ऐसे में अपने इष्ट भगवान को पादुकाएं उपहार स्वरुप दें।  

PunjabKesari Saturday Ke Upay
How to Impress Shani Dev: शनि महाराज का वास कौए में माना जाता है। उन्हें रोटी डालने से शनि की शुभता बढ़ती हैं।

Shani mantra- शनि मंत्रों का जाप करें- ॐ शन्नोदेवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये शन्योरभिस्त्रवन्तु न:।

ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:

ॐ ऐं ह्लीं श्रीशनैश्चराय नम:।

कोणस्थ पिंगलो बभ्रु: कृष्णो रौद्रोन्तको यम:। सौरि: शनैश्चरो मंद: पिप्पलादेन संस्तुत:।।

नीलम
neelamkataria0012@gmail.com
 
 
 

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Recommended News