Moon Remedies and Mantra: मानसिक तनाव से मुक्त करता है चंद्रमा

2021-06-14T09:00:53.13

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

How can I please Chandra: पौराणिक कथानुसार चंद्र का विवाह दक्ष प्रजापति की 27 नक्षत्र कन्याओं के साथ सम्पन्न हुआ। चंद्र एवं रोहिणी बहुत रूपवती थीं अत: चंद्र का रोहिणी पर अधिक स्नेह देख शेष कन्याओं ने अपने पिता दक्ष से अपना दुख प्रकट किया। दक्ष स्वभाव से ही क्रोधी प्रवृत्ति के थे और उन्होंने क्रोध में आकर चंद्र को श्राप दिया,‘‘तुम क्षय रोग से ग्रस्त हो जाओगे।’’

PunjabKesari Moon Remedies and Mantra

इसके परिणामस्वरूप चंद्र क्षय रोग से ग्रस्त होने लगे और उनकी कलाएं क्षीण होने लगीं। नारद जी ने उन्हें मृत्युंजय भगवान आशुतोष की आराधना करने को कहा तो उन्होंने भगवान आशुतोष की आराधना की।

चंद्र अंतिम सांसें गिन रहे थे कि भगवान शंकर ने प्रदोषकाल में चंद्र को पुनर्जीवन का वरदान देकर उसे अपने मस्तक पर धारण कर लिया अर्थात चंद्र मृत्युतुल्य होते हुए भी मृत्यु को प्राप्त नहीं हुए। पुन: धीरे-धीरे चंद्र स्वस्थ होने लगे तथा पूर्णमाशी पर पूर्ण चंद्र के रूप में प्रकट हुए।

How make Chandra Dev happy: चंद्रमा का जाप क्यों करें?
ज्योतिष विज्ञान के अनुसार सौम्य चंद्रमा मन का स्वामी है। मन दूषित होने पर मनुष्य के संस्कार अपवित्र हो जाते हैं। वह न चाहते हुए भी पाप कर्म में लिप्त हो जाता है। मानसिक तनाव से मुक्ति, मन की एकाग्रता के लिए चंद्रणा का अनुकूल होना आवश्यक है।

Mantras for planet Moon for love peace and prosperity: जिन लोगों की जन्म-पत्रिका में चंद्र चतुर्थ, अष्टम एवं द्वादश भाव में बैठा हो अथवा नीच ग्रहों से प्रभावित हो या चंद्र पाप से आक्रांत हो, उन्हें ‘चंद्र मंत्र’ का जाप करना चाहिए। इसके अतिरिक्त इस स्थिति में जन्म-पत्रिका में बैठे चंद्रमा की महादशा, अंतर्दशा इत्यादि की मुक्ति के समय भी चंद्र मंत्र का जप करने से लाभ होता है।

PunjabKesari Moon Remedies and Mantra

Effective Chandra Mantra: विशिष्ट परिस्थिति में वर या कन्या के चतुर्थ, अष्टम अथवा द्वादश भाव में चंद्र रहने पर भी विवाह संस्कार करना पड़े तो चंद्रमा के मंत्र का जाप अवश्य कराएं। जाप समाप्त होने पर किसी पात्र में श्वेत पुष्प, श्वेत चंदन, चावल और जल मिलाकर चंद्रमा के लिए अर्घ्य दान करें।

Chant This Mantra To Make Moon Stronger

चन्द्रमा का नाम मंत्र -  ॐ सों सोमाय नम:।
 
चंद्रमा गायत्री मंत्र - ॐ भूर्भुव: स्व: अमृतांगाय विदमहे कलारूपाय धीमहि तन्नो सोमो प्रचोदयात्।
 
चंद्रमा का पौराणिक मंत्र- दधिशंखतुषाराभं क्षीरोदार्णव सम्भवम। नमामि शशिनं सोमं शंभोर्मुकुट भूषणं ।।
 
चन्द्रमा के तांत्रोक्त मंत्र-
ॐ श्रां श्रीं श्रौं स: चन्द्रमसे नम:।
ॐ ऐं क्लीं सोमाय नम:।
ॐ श्रीं श्रीं चन्द्रमसे नम: ।
 
Chandra vedic mantra: चन्द्रमा का वैदिक मंत्र - ॐ इमं देवा असपत्नं ग्वं सुवध्यं।
महते क्षत्राय महते ज्यैश्ठाय महते जानराज्यायेन्दस्येन्द्रियाय इमममुध्य पुत्रममुध्यै
पुत्रमस्यै विश वोsमी राज: सोमोsस्माकं ब्राह्माणाना ग्वं राजा।

PunjabKesari Moon Remedies and Mantra

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Niyati Bhandari

Recommended News