अपने अद्भूत रहस्य के चलते विश्वभर में Famous हैं महाराष्ट्र के ये मंदिर

11/28/2019 3:27:12 PM

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
हिंदू धर्म में ऐसे बहुत से मंदिर विख्यात हैं, जिनका अपने आप में ही बहुत महत्व होता है। वहीं भारत के दक्षिण मध्य में स्थित महाराष्ट्र भारत का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है। ये जगह केवल सैर-सपाटे के लिए ही नहीं बल्कि धार्मिक और आध्यात्मिक दृष्टि से भी बहुत अच्छा मानी गई है। महाराष्ट्र में एक से एक मंदिर ऐसे हैं, जिनकी ख्याति दूर-दूर तक फैली हुई है। आइए जानते हैंं  महाराष्ट्र के फेमस 10 प्रमुख मंदिरों के बारे में।
PunjabKesari
सिद्धिविनायक मंदिर
भगवान गणेश को समर्पित है, ये मंदिर बहुत ज्यादा फेमस है। बड़ी-बड़ी हसतियां भी भगवान गणेश के दर्शनों के लिए यहां आती हैं। इस स्थान की गिनती देश के सबसे व्यस्त धार्मिक स्थलों में की जाती है। धार्मिक मान्यता के अनुसार, यहां सच्चे मन से मांगी गई मुराद जरूर पूरी होती है।

शिरडी मंदिर  
आज के समय में ये स्थान लोगों के बीच सबसे लोकप्रिय हो चुका है। ये मंदिर शिरडी के साईं बाबा के मंदिर के नाम से मशहूर है। बता दें कि इस मंदिर का निर्माण 20वीं शताब्दी में हुआ था।
PunjabKesari
शनि शिंगणापुर मंदिर 
अहमदनगर जिले में स्थित शिंगणापुर का शनि मंदिर विश्वभर में प्रसिद्ध है। यहां स्थित शनिदेव की विशाल प्रतिमा बगैर किसी छत्र या गुंबद के खुले आसमान के नीचे एक संगमरमर के चबूतरे पर विराजित है। 

हरिहरेश्वर मंदिर 
यह मंदिर पश्चिमी घाट के ऊंचे पहाड़ों से घिरा हुआ है और अपनी सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है। भगवान विष्णु, भगवान शिव, भगवान ब्रह्मा और मां योगेश्वरी इस मंदिर के मुख्य देवता हैं।
PunjabKesari
मार्लेश्वर मंदिर 
रत्नागरी जिले में बना ये मंदिर एक गुफा मंदिर है और जोकि भगवान शिव को समर्पित है। मान्यता है कि ये मंदिर भगवान परशुराम द्वारा बनाया गया था।

वज्रेश्वरी मंदिर
मुम्बई से 75 किमी दूर स्थित 'वज्रेश्वरी' नामक स्थान पर है, जहां वज्रेश्वरी देवी की पूजा की जाती है। इस स्थान पर तीन देवियां विराजमान हैं रेणुका, वज्रेश्वरी और कालिका।

परली वैजनाथ मंदिर 
ये मंदिर बीड जिले में स्थित है और भगवान शिव का सुप्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग मंदिर है, जिसमें भगवान वैजनाथ विराजते हैं। बता दें कि इसे भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक हैं। 
PunjabKesari
रंजनगांव महागणपति
ये मंदिर 9वीं या 10वीं शताब्दी में पेशवों द्वारा बनवाया गया था। इस मंदिर की खास बात ये हैं कि यहां सूरज की किरणें सीधी मूर्ति पर गिरती हैं जो बेहद खूबसूरत लगती हैं।

त्रयंबकेश्वर मंदिर 
नासिक में ब्रह्मगिरी पर्वत की तलहटी और गोदावरी नदी के किनारे बने त्रंबकेश्वर मंदिर भी भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग मंदिरों में से एक है। ये दुनिया का एक ऐसा मंदिर है जहां भगवान ब्रह्मा, भगवान विष्णु और भगवान शिव तीनों के चेहरे हैं।
PunjabKesari
ज्योतिबा मंदिर 
कोल्हापुर में स्थित, ज्योतिबा को भगवान केदारनाथ का अवतार माना जाता है। इसी जगह पर त्रिदेवों यानी कि ब्रह्मा, विष्‍णु और महेश ने मिलकर राक्षस रतनासुर का अंत किया था।


Lata

Related News