आज दशहरे के शुभ अवसर पर गलती से भी न करें ये काम वरना...

2020-10-25T16:15:41.497

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
आज देश के लगभग हर कोने में दशहरे का पर्व मनाया जा रहा है। बुराई पर अच्छाई का प्रतीक ये त्यौहार बेहद खास होता है। इस दिन जहां एक तरफ़ लोग रावण का दहन करते हैं, तो वहीं इस दिन श्री राम की पूजा भी की जाती है। हर कोई इस त्यौहार बहुत धूम धाम से मनाता है। परंतु कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो जाने-अनजाने में इस दिन कुछ ऐसे काम कर लेते हैं जिससे उन पर तथा उनके जीवन पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। तो ऐसे में हम आपको यही बताने वाले हैं कि दशहरा के इस खास दिन आपको कौन से काम नहीं करने चाहिए, जिससे आपका जीवन बर्बाद होने से बच सके। जी हां, कहा जाता है इन कामों को करने से किसी भी व्यक्ति का जीवन तबाह हो सकता है। तो चलिए जानते हैं कौन से हैं वो काम-  

बुराई करना छोड़ा दें
धार्मिक मान्यताएं हैं कि इस दिन किसी भी व्यक्ति को किसी की बुराई नहीं करनी चाहिए, बल्कि अगर अब तक आप ऐसा करते भी हैं तो आज के दिन से ही ऐसे कार्य करने बंद कर दें। क्योंकि ये पर्व बुराई पर अच्छाई का प्रतीक माना जाता है, इसलिए केवल अच्छे कर्म करने चाहिए और न सिर्फ इस दिन बल्कि हर व्यक्ति को अपने जीवन में केवल अच्छे कार्य ही करने चाहिए। 

न काटें वृक्ष
कहा जाता है इस दिन किसी भी व्यक्ति को पेड़ नहीं काटने चाहिए। बल्कि जितना हो सके पेड़-पौधे लगाने चाहिए। दशहरा बेहद शुभ दिन माना जाता है, इसलिए इस दिन पेड़ काटने नहीं बलक्कि लगाने चाहिए क्योंकि इससे व्यक्ति का स्वास्थ्य बेहतर होता है। 

किसी जीव-जंतु को नुकसान न पहुंचाएं
दशहरे के दिन किसी भी प्रकार से किसी जीव-जंतु को नुकसान न पहुंचाएं। ऐसा कहा जाता है कि ऐसा करने से व्यक्ति का सौभाग्य दुर्भाग्य में बदल सकता है।

बड़े-बुर्जुगों का न करें अपमान
दशहरे के दिन गलती से भी किसी स्त्री या अपनों से बड़ों का नुकसान न करें, कहा जाता है ऐसा करने से देवी मां लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं। 

न करें शराब का सेवन
कुछ लोग त्यौहार की धूम-धाम में इतना खो जाते हैं कि खुशी मनाने के चक्कर में शराब व मांस आदि का सेवन करने लगते हैं। ऐसा करना शास्त्रों में धर्म के विरुद्ध माना जाता है। 
दशहरा के दिन मांस, मदिरा का सेवन करने से बचना चाहिए।


Jyoti

Related News