कांग्रेस शासित राज्य ईंधन की कीमतों में कमी क्यों नहीं कर रहे : ईरानी

punjabkesari.in Saturday, Jun 04, 2022 - 11:17 PM (IST)

रायपुर, चार जून (भाषा) केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने शनिवार को सवाल किया कि केंद्र सरकार द्वारा ईंधन की कीमतों में कमी कर लोगों को राहत देने के बाद कांग्रेस शासित राज्य पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में कमी क्यों नहीं कर रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान ईरानी ने गांधी परिवार पर भी हमला बोला और दावा किया कि परिवार ने अमेठी के विकास के लिए कुछ नहीं किया, जबकि यह क्षेत्र 50 वर्षों से उनका गढ़ रहा है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ''''प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की दरों में नौ रुपए और सात की कमी की और लोगों को राहत सुनिश्चित करने के लिए एक लाख करोड़ रुपए का बोझ वहन किया। उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को प्रति सिलेंडर दो सौ रुपए की छूट दी गई। मुफ्त (कोविड रोधी) टीके, मुफ्त राशन और इसी तरह के कई मानवीय कदम राष्ट्र के हित में उठाए गए। कांग्रेस शासित राज्य क्यों (ईंधन की) कीमतें कम नहीं कर रहे हैं।''''
अमेठी पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में ईरानी ने गांधी परिवार पर निशाना साधते हुए कहा, ''''50 साल तक अमेठी में एक खानदान की मिल्कियत रही है। इसका परिणाम यह है कि वर्ष 2014 से पहले वहां के 80 प्रतिशत घरों में बिजली और शौचालय नहीं थे। यहां तक ​​कि कलेक्ट्रेट कार्यालय भी नहीं था।’’
ईरानी ने कहा, ‘‘राहुल गांधी विश्व का भ्रमण करते हैं और अमेठी में पहला पासपोर्ट कार्यालय प्रधानमंत्री मोदी और तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने स्थापित किया। अमेठी जो कभी गांधी परिवार का गढ़ था, वहां हाल के चुनावों में पांच विधानसभा सीट में से चार पर कांग्रेस के उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई थी।’’
ईरानी ने शनिवार को अपने एक दिवसीय छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान रायपुर में एक बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की तथा आंगनबाड़ी केंद्र का दौरा किया। ईरानी ने बाद में भाजपा प्रदेश कार्यालय में महिला मोर्चा के सम्मेलन को संबोधित भी किया।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News