मारुति उद्योग का हरियाणा में सबसे बड़ा इन्वैस्टमैंट, 20 हजार करोड़ से ज्यादा का करेगी निवेश

punjabkesari.in Thursday, May 19, 2022 - 08:17 PM (IST)

चंडीगढ़,(बंसल): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा कभी कृषि का केंद्र होता था लेकिन कृषि के साथ-साथ राज्य उद्योग में आगे बढ़ा और आज हमारा हरियाणा वल्र्ड वाइड इन्वैस्टर का फ्रैंडली डैस्टिनेशन बन गया है। मारुति सुजुकी के 40 साल के सफर को पूरा करने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जापान और भारत के संबंध 70 साल पुराने हैं, वे कामना करते हैं कि ये संबंध प्रगाढ़ हों और हमेशा आगे बढ़ते रहें। मुख्यमंत्री सोनीपत के खरखौदा में स्थित इंडस्ट्रीयल मॉडल टाऊनशिप (आई.एम.टी.) में स्थापित किए जाने वाले मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड (एम.एस.आई.एल.) और सुजुकी मोटरसाइकिल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के प्लांट के लिए भूमि के आबंटन को लेकर आयोजित समझौता हस्ताक्षर कार्यक्रम में बोल रहे थे। यह समझौता हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रीयल एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डिवैल्पमैंट कॉर्पोरेशन (एच.एस.आई.आई.डी.सी.) और मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड (एम.एस.आई.एल.)/सुजुकी मोटरसाइकिल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के बीच हुआ। खरखौदा में 800 और 100 एकड़ भूमि पर मारुति के नए प्लांट स्थापित किए जाने हैं।

 


40 साल बाद इतिहास ने खुद को दोहराया 
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि यह कार्यक्रम ऐतिहासिक है, वे यह नहीं कहेंगे कि आज एक नया इतिहास बन गया है बल्कि यह कहेंगे कि 40 साल बाद इतिहास ने खुद को दोहराया है। उन्होंने कहा कि 40 साल पहले भी एक एम.ओ.यू. हुआ था, जिसने हरियाणा के विकास की तस्वीर और तकदीर को बदलने में बड़ी भूमिका निभाई और आज एक नया समझौता हुआ जिसमें 900 एकड़ जमीन हरियाणा राज्य औद्योगिक अवसंरचना विकास निगम (एच.एस.आई.आई.डी.सी.) के माध्यम से अधिकृत किया गया और इस जमीन को आज मारुति सुजुकी को हेंडओवर किया गया। उन्होंने कहा कि आज के कार्यक्रम में 2400 करोड़ रुपए (एच.एस.आई.आई.डी.सी.) के माध्यम से हरियाणा को दिया गया है। हरियाणा के इतिहास में पहली बार इतना बड़ा ट्रांजेक्शन हुआ है। यह समझौता हरियाणा में विकास की नई पटकथा लिखेगा।

 


प्लांट के लिए 2400 करोड़ की जमीन ली गई 
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्लांट के स्थापित होने से 13 हजार लोगों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। प्लांट के लिए 2400 करोड़ की जमीन ली गई है और 20 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का इन्वैस्टमैंट किया जाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मारुति के कारण गुरुग्राम विकसित हुआ। इनके कारण से गुरुग्राम के अंदर ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री का इजाफा हुआ, कई कंपनियां यहां आई। अन्य इंडस्ट्री ने भी गुरुग्राम की आॢथक प्रगति में अहम भूमिका निभाई। मुख्यमंत्री ने मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के चेयरमैन आर.सी. भार्गव से निवेदन किया कि मारुति का कॉर्पोरेट ऑफिस अभी तक दिल्ली में है, इसे भी हरियाणा शिफ्ट किया जाए। मनोहर लाल ने कहा कि हमने इंडस्ट्री को सभी प्रकार की सुविधाएं दी हैं। हमने सॢवसिज के लिए भी सुविधाएं देनी शुरू की हैं। चाहे एजुकेशन, हैल्थ अथवा आई.टी. से जुड़ी सॢवसिज हों, सभी को बुनियादी सुविधाएं दी जा रही हैं। जो भी सहायता चाहिए, पॉलिसी में जो भी बदलाव चाहिए, हम सब करने को तैयार। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपकी डिमांड और सुझाव के हिसाब से हम आगे बढ़ेंगे।

 


खरखौदा औद्योगिक हब बनकर उभरेगा
मुख्यमंत्री ने कहा कि खरखौदा नया विकसित होता हुआ क्षेत्र है। यह एयरपोर्ट से 65 किलोमीटर दूर, रेलवे स्टेशन और एन.एच. से 18 कि.मी. दूर है तथा के.एम.पी. से भी इसका ङ्क्षलक है। यहां मारुति जैसी बड़ी कंपनियों के निवेश करने से औद्योगिक माहौल को सकारात्मक बल मिला है। आने वाले दिनों में यह क्षेत्र औद्योगिक हब बनकर उभरेगा और इससे क्षेत्र के विकास का पहिया तेजी से घूमेगा। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा हिसार के एयरपोर्ट को भी विकसित किया जा रहा है। हिसार पुराना औद्योगिक नगर है। परंपरागत इंडस्ट्री के साथ-साथ नई इंडस्ट्री बनाई जा रही हैं जैसे कि हिसार में बल्क ड्रग पार्क, डिफैंस से जुड़े प्रोडक्शन इत्यादि को बढ़ावा दिया जा रहा है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News