सफाई कर्मियों ने दी 23 से हड़ताल की चेतावनी

2020-10-17T21:54:48.303

चंडीगढ़ (राय): चंडीगढ़ सफाई कर्मचारी यूनियन ने निगम और प्रशासन को चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गई तो 23 अक्तूबर से वे शहर से कचरा उठाना बंद कर देंगे। यूनियन के अध्यक्ष के.के. चड्ढा ने शनिवार को ट्रेड यूनियनों की बैठक के बाद यह घोषणा की। ट्रेड यूनियनों ने भी सफाई कर्मचारियों का सहयोग करने का आश्वासन दिया है। डोर-टू-डोर गारबेज कलैक्टर्स ने भी निगम की  गाडिय़ां को पूरी तरह से बंद करने की चेतावनी दी है। इन नेताओं ने ऐलान किया कि हड़ताल तब तक जारी रहेगी, जब तक सफाई कर्मचारियों की मांगें नहीं मान ली जाती। 

 

ये हैं मांगें
सफाई कर्मचारियों की मांग है कि जी.पी.एस. सिस्टम वाली स्मार्ट घडिय़ों को तुरंत खत्म करें। सेवा के दौरान मारे गए कर्मियों के परिवार के सदस्य को स्थाई नौकरी दी जाए और एम.ओ.एच. के खिलाफ कथित भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच की जाए। यूनियन के प्रधान के.के. चड्ढा और प्रधान महासचिव ओमपाल चंवर ने बताया कि पिछले काफी समय से जी.पी.एस. घडिय़ों के खिलाफ जो भी करना होगा, उसके करेंगे। चंवर के अनुसार 23 अक्तूबर से हड़ताल शुरू करने के साथ ही उनकी मांग मान ली गई तो ठीक है अन्यथा इस बार आर-पार की लंबी लड़ाई चलेगी। 


Edited By

AJIT DHANKHAR

Related News