पी.जी. स्टूडैंट्स की एंट्री पर हंगामा, सिक्योरिटी गार्डों से धक्का-मुक्की

2021-06-15T00:32:01.903

चंडीगढ़,(रश्मि हंस) : पंजाब यूनिवर्सिटी में पोस्ट ग्रैजुएट के स्टूडैंट को जबरदस्ती ले जाने   पर एस.एफ.एस. के कुलदीप संधू पर पुलिस ने केस दर्ज किया है। पी.यू. की एसी जोशी लाईब्रेरी में सुबह 10 बजे उस समय हंगामा हो गया, जब रिसर्च स्कॉलर के अलावा पोस्ट ग्रैजुएट स्टूडैंट लाईब्रेरी में पढऩे जाने लगे, जबकि कोरोना के चलते लाईब्रेरी फिलहाल पी.एचडी. स्कॉलर के लिए खोली गई है। जब पोस्ट ग्रैजुएट स्टूडैंट्स को लाईब्रेरी के अंदर जाने से सिक्योरिटी गार्ड रोकने लगे तो यह हंगामा हो गया। 
इन स्टूडैंट्स को लाईब्रेरी के अंदर ले जाने में कुलदीप संधू मदद क र रहा था। कुलदीप संधू पर यह सारा हंगामा  करवाने का आरोप है। इस दौरान सिक्योरिटी गार्डों व स्टूडैंट्स में धक्कामुक्की हो गई, जिसके चलते सिक्योरिटी गार्ड को चोट भी आई है। इसके बाद सिक्योरिटी गार्ड का मैडीकल करवाया गया। साथ ही  कुलदीप संधू के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी गई।

 


ध्यान रहे कि पिछले कई दिन से एस.एफ.एस. का लाईब्रेरी, लैब और हॉस्टल आदि खोलने को लेकर धरना चल रहा था। हाल ही में पी.यू. ने रिसर्च स्कॉलर को  लाईब्रेरी में आकर पढऩे और  हॉस्टलों में रहने और लैब में काम करने की छूट दी है, जिसके बाद कैंपस में सोमवार को यह बखेड़ा खड़ा हो  गया। 


एस.एफ.एस. नेताओं पर पहले भी जबरदस्ती घुसने का आरोप
गौरतलब है कि इससे पहले पी.यू. लाईब्रेरी खोलने को लेकर एस.एफ.एस. से जुड़े कुछ स्टूडैंट्स पर  लाईब्रेरी में जबरदस्ती घुसने को लेकर केस दर्ज हुआ था। हालांकि एस.एफ.एस. से जुडे स्टूडैंट्स का कहना है कि उस हंगामे को कुछ आउटसाईडर ने किया था। इसलिए एस.एफ.एस. के जिन स्टूडैंट  पर  केस दर्ज किया गया है, पी.यू. प्रबंधन को उन पर से केस वापस लेना चाहिए। 


और कक्षाओं के छात्रों के जाने पर हंगामा 
पी.यू. के एक अधिकारी ने बताया कि लाईब्रेरी फिलहाल पी.एचडी. स्कॉलर  को जाने की अनुमति दी गई है, लेकिन लाईब्रेरी में अन्य कक्षाओं के छात्र भी अंदर जाने की कोशिश कर रहे थे, जिनकी एस.एफ.एस. का कार्यकत्र्ता अंदर जाने में मदद कर रहा था, जिस कारण यह हंगामा हुआ। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

ashwani

Recommended News