मुख्यमंत्री ने कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर कारगिल नायकों को किया नमन

2021-07-26T20:25:11.737

चंडीगढ़, (बंसल): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर देश की रक्षा, शांति व स्वाभिमान के लिए अपने जीवन का सर्वोच्च बलिदान देने वाले महान कारगिल नायकों को नमन किया। मुख्यमंत्री ने कारगिल शहीदों को स्मरण करते हुए कहा कि इस युद्ध के दौरान भारत माता के वीर सपूतों द्वारा दिया गया बलिदान हमारी युवा पीढ़ी को सदैव देशभक्ति के लिए प्रेरित करता रहेगा।

 


उन्होंने कहा कि 22 साल पहले 26 जुलाई, 1999 को भारतीय सेना ने पाकिस्तानी घुसपैठियों को खदेड़ कर कारगिल में तिरंगा फहराया था। इस युद्ध में हमारे सैनिकों के बलिदान, साहस और देश के प्रति समर्पण को कभी भुलाया नहीं जा सकता। 
उन्होंने कहा कि भारतीय सैनिक लड़ता है, इसलिए नहीं कि वो अपने सामने वालों से नफरत करता है, बल्कि वह अपने देशवासियों से प्यार करता है। उन्होंने कहा कि वतन पर मिटने वालों का यह राष्ट्र सदैव ऋणी और कृतज्ञ रहेगा।


‘अदम्य साहस, वीरता और शौर्य की बदौलत भारत ने पाकिस्तान को कश्मीर में हर बार मात दी : दुष्यंत चौटाला’
उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर देश के बहादुर सैनिकों के बलिदान को नमन किया। उन्होंने कहा कि मातृभूमि पर प्राण न्यौछावर करने वाले रणबांकुरों के अदम्य साहस, वीरता और शौर्य की बदौलत भारत ने पाकिस्तान को कश्मीर में हर बार मात दी। उन्होंने कहा कि उनकी बहादुरी हमें हर दिन प्रेरणा देती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Vikash thakur

Recommended News