घग्गर के साथ लगती जमीन पर तैयार होंगे प्लॉट्स

1/15/2020 1:55:35 PM

पंचकूला(आशीष) : हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के काम ढीला होता जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि जब भी किसी शहर या सैक्टर का ब्लू प्रिंट तैयार किया जाता है तो उसे जल्द पूरा करना होता है जबकि पंचकूला में एच.एस.वी.पी. इस योजना को पूरा करने में पीछे है। कभी सैक्टर-21 के लिए 10 साल पहले बनाई गई योजना को अब सिरे चढ़ाते हुए नए प्लॉट्स को डिवैल्प किया जा रहा है। 

जिसके चलते सैक्टर-21 को एक्सटैंड करते हुए 6 मरले और 10 मरले के प्लॉट्स को डिवैल्प किया जाएगा। इंजीनियरिंग विंग ने करीब 10 एकड़ जमीन पर सड़कें बनानी शुरू कर दी हैं। चीफ एडमिनिस्ट्रेटर कार्यालय ने इसके लिए बजट अप्रूव करते हुए सड़कों, पानी की लाइन, सीवरेज लाइन का काम अगले दो महीने में पूरा करने का निर्देश जारी किया है।  

सैक्टर-21 को एक्सटैंड करने की बनाई थी योजना :
करीब 10 साल पहले एच.एस.वी.पी. ने सैक्टर-21 को एक्सटैंड करने की योजना बनाई थी। क्योंकि यहां घग्गर के किनारे एच.एस.वी.पी. के पास काफी जमीन पड़ी है। जिसे एक्वायर करने के दौरान मोटी कीमत चुकाई गई थी। घग्गर किनारे, गोल्फ कोर्स के साथ आजाद कालोनी बसी हुई थी। 

इस कालोनी को हटाने से पहले बनी इस योजना को सिरे ही नहीं चढ़ाया जा सका। ऐसे में यहां अब नए प्लॉट्स काटे जा रहे हैं। तीन साल पहले एच.एस.वी.पी. की ओर से सैक्टर-25 बी को बनाने की योजना है। इसके बाद सैक्टर-25बी में सड़कों को बनाया गया। हाईवे के किनारे लगने वाले इस सैक्टर को कमर्शियल तैयार करने की योजना की गई है। 

योजना फाइलों में दबकर रह गई :
इस सैक्टर में मॉल, इंस्टीच्यूट साइट, पार्क, शॉपिंग काम्पलैक्स और मार्कीट की योजना बनाई गई है। सड़कें बनाने के लिए इंजीनियरिंग विंग की ओर से काम पूरा करने के बाद एक कोर्ट केस सामने आ गया। जिसमें कुछ लोगों ने दावा किया था कि एच.एस.वी.पी. ने इस जमीन को एक्वायर करने बाद उन्हें पेमैंट ही नहीं दी। जिसके बाद से इस सैक्टर की योजना फाइलों में ही दफन होकर रह गई। 

प्लाट्स की ऑक्शन की जाएगी :
सैक्टर-21 के इन प्लॉट्स की अगले 3 माह में ऑक्शन की जाएगी। इन प्लॉट्स के लिए एक साथ आवदेन मांगे जाएंगे। इसके बाद अलॉटमैंट पत्र जारी किए जाएंगे। ऐसे में कंगाली से जूझ रहे एच.एस.वी.पी. को यहां से मोटी कमाई हो सकती है। 

चार बार बदल चुकी है योजना :
सैक्टर-21 की योजना को पहले भी चार बार बदला जा चुका है। क्योंकि इस सैक्टर में सबसे ज्यादा प्लॉट दिए गए हैं। यहां हाईटैंशन वायर, कोर्ट केस से फ्री हुई जमीन,कालोनी के खाली होने के बाद प्लॉट्स की संख्या को बढ़ाया गया है। सैक्टर में 2500 से ज्यादा प्लॉट हैं। अब इस सैक्टर को दो बार और एक्सटैंड किया जा सकता है।  


Priyanka rana

Related News