‘भारत बंद : चंडीगढ़ आने वाले लोग हुए परेशान, नहीं मिली एंट्री’

09/28/2021 1:28:58 AM

चंडीगढ़,(सुशील राज) : 3 नए कृषि कानूनों के विरोध में भारत बंद का असर ज्यादातर चंडीगढ़, मोहाली और पंचकूला बॉर्डर पर सोमवार को दिखाई दिया गया। सुबह 6 बजे से ही चंडीगढ़ पुलिस ने किसी को शहर में एंट्री नहीं करने दी। लोग चंडीगढ़ आने के लिए शार्ट कर्ट रास्ते अपनाने में लगे हुए थे लेकिन पुलिस ने शार्ट कर्ट और स्लिप रोड़ पर भी किसानों और समर्थकों को रोकने के लिए घेराबंदी कर रखी थी।

 

चंडीगढ़ पुलिस ने शहर में आने वाली सभी एंट्री प्वाइंट पर एक दिन पहले ही बैरीकेड्स लगाकर रास्ते बंद कर दिए थे। पुलिस ने हर एंट्री प्वाइंट पर भारी पुलिस फोर्स बल और वाटर कैनन की गाडिय़ां तैनात की थी, ताकि किसान शहर में आने की कोशिश करें तो पुलिस उन पर उचित कार्रवाई की जा सके। 
वहीं चंडीगढ़ के अंदर सड़कों पर भारत बंद का कोई ज्यादा असर नहीं दिखाई दिया गया। सैक्टरों की सभी मार्कीट में दुकानों खुली हुई थी। हालांकि चंडीगढ़ की सड़कों पर सोमवार को वाहनों की तादाद कम आंकी गई है। क्योंकि चंडीगढ़ पुलिस ने पंचकूला और मोहाली से आने वाले वाहन चालकों को शहर में आने नहीं दिया गया। कारोबारी, नौकरी पेशा के अलावा मजदूर से लेकर आम लोग को सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक मुश्किलों का सामना कर रहे थे। क्योंकि सुबह होते ही किसानों ने शहर की मुख्य सड़कों तक जाम कर के बैठ गए थे।


कई जगह पुलिस ने किया था ट्रैफिक ड्राइवर्ट 
मुल्लांपुर बैरियर और हल्लोमाजरा लाइट प्वाइंट पर सड़क जाम होने के कारण चंडीगढ़ पुलिस ने यातायात रूट में बदलाव कर दिया था। मुल्लांपुर बैरियर की ओर से 66के.वी. लाइट प्वाइंट, खुड्डा लाहौरा ब्रिज, धनास ब्रिज, सैक्टर-25 ट्यूबवैल मोड, धनास लेक टी-प्वाइंट व पी.जी.आई. चौक तक जाने वाले रास्ते को बंद किया गया था। इसके अलावा हल्लोमाजरा लाइट प्वाइंट की ओर जाने वाले वाहनों को ट्रिब्यून चौक से कालीबाड़ी लाइट प्वाइंट की तरफ डायवर्ट किया गया था। वहीं पोल्ट्री फार्म चौक पर औद्योगिक क्षेत्र फेज-1 व 2 से आने वाले यातायात को ट्रिब्यून चौक की तरफ डायवर्ट किया गया था।

 

जबकि पंचकूला से हल्लोमाजरा लाइट प्वाइंट की ओर आने वाले यातायात को रायपुर कलां बैरियर से बलटाना व मक्खनमाजरा मोड से एयरपोर्ट लाइट प्वाइंट की ओर डायवर्ट किया गया था। जो अब पूरी तरह से साफ हो गया है। रोजाना की तरह अब इन मुख्य मार्गों को खोल दिया गया है। जहां से लोग आना-जाना भी शुरू कर दिए हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajit Dhankhar

Recommended News