खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के लिए हरियाणा तैयार

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 08:11 PM (IST)

चंडीगढ़,(बंसल): मुख्यमंत्री मनोहर लाल के युवाओं को खेलों के लिए प्रेरित करने के विजन को मूर्तरूप देने के लिए 4 से 13 जून तक पंचकूला में आयोजित किए जा रहे खेलो इंडिया यूथ गेम्स -2021 की तैयारियां युद्घ स्तर पर जारी हैं। इस कड़ी में आज देश के सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के ‘शैफ-द-मिशन’ के साथ हरियाणा सरकार की ओर से खेलो इंडिया आयोजन समिति के अधिकारियों द्वारा एक बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री के सलाहकार व खेलो इंडिया आयोजन से निरंतर जुड़े योगेंद्र चौधरी ने की। बैठक में खेल विभाग के निदेशक एवं खेलो इंडिया यूथ गेम्स- 2021 के संयुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी पंकज नैन व भारतीय खेल प्राधिकरण के सचिव रोहित भारद्वाज व अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

 


हरियाणा का दिल बड़ा 
मुख्यमंत्री के सलाहकार व खेलो इंडिया से लंबे समय से जुड़े रहे योगेंद्र चौधरी ने कहा कि उन्हें खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के सभी राज्यों से हरियाणा में आए ‘शैफ-द-मिशन’ का स्वागत करते हुए मुझे एक अच्छी अनुभूति का एहसास हो रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सोच है कि युवा जीवन के अपने रास्ते से पथभ्रष्टï न हो, इसके लिए उसे खेलों से अधिक से अधिक जोड़ा जाए तो स्वस्थ शरीर के साथ-साथ उसमें अनुशासन की भावना पैदा होती है। मुख्यमंत्री के प्रयासों से ही खेलो इंडिया का आयोजन करने का अवसर हरियाणा को मिला है। उन्होंने कहा कि हरियाणा का दिल बड़ा है, बैठक में आए शैफ-द-मिशन खेलों की तैयारियों को लेकर जो भी सुझाव देंगे, उन पर गंभीरता से विचार किया जाएगा। 

 


पंचकूला धारण करेगा लघु भारत का रूप 
उन्होंने कहा कि इन 10 दिनों तक चलने वाले खेलों के दौरान पंचकूला एक लघु भारत का रूप धारण कर लेगा। यहां देश की 24 भाषाओं व विभिन्न धर्मों के स्कूली खिलाड़ी, उनके कोच सहित वहां की सरकारों के खेल मंत्री व अधिकारी उपस्थित रहेंगे। इस प्रकार खेलो इंडिया कहीं न कहीं हमारे अंदर भारतीयता की तार भी पिरोता है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2018 में खेलो इंडिया की शुरूआत की गई थी और चौथे संस्करण की मेजबानी का अवसर हरियाणा को मिला है जो हमारे लिए खुशी की बात है। उन्होंने कहा कि यहां आने वाले खिलाड़ी यह जानेंगे कि हरियाणा क्या है, कैसे यहां के खिलाड़ी ओलिम्पिक जैसे खेलों में मैडल जीत कर लाते हैं। उन्होंने कहा कि इन खेलों में अंडेमान निकोबार, दादरा नगर हवेली, दमन व दीव, गोवा, लद्दाख, नागालैंड, त्रिपुरा, मिजोरम, मेघालय जैसे राज्यों के स्कूली बच्चे आएंगे, जिन्होंने कभी मैदानी जमीन देखी ही नहीं और पंचकूला में आकर देखेंगे कि हरियाणा में किस प्रकार की संस्कृति व खेल सुविधाएं उपलब्ध हैं और सभी क्षेत्रों में उभरते हुए हरियाणा की जानकारी लेकर जाएंगे।

 


बड़े खेलों के आयोजन में ‘शैफ-द-मिशन’ की भूमिका अतिमहत्वपूर्ण 
बैठक को संबोधित करते हुए पंकज नैन ने कहा कि यह हरियाणा के लिए गर्व की बात है कि खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 के आयोजन की मेजबानी करने का अवसर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से संभव हो सका है। कोविड-19 के चलते इन खेलों को दो-तीन बार स्थगित करना पड़ा। परंतु अब इनके आयोजन की तैयारियां युद्घ स्तर पर चल रही हैं। हमारा प्रयास रहेगा कि तैयारी में कोई कोर कसर न रहे। उन्होंने कहा कि बड़े खेलों के आयोजन में ‘शैफ-द-मिशन’ की भूमिका अतिमहत्वपूर्ण होती है और इनके सहयोग के बिना खेलों के सफल आयोजन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। उन्होंने कहा कि 10 दिनों तक 8000 एथलीट्स व सपोॄटग स्टाफ खेलों की धरा कहे जाने वाले हरियाणा के रंग में रंग जाएंगे और आशा है कि वे यहां से एक अच्छा अनुभव लेकर जाएंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा का प्रयास रहेगा कि ताऊ देवीलाल खेल परिसर, पंचकूला के साथ-साथ अम्बाला, शाहबाद, चंडीगढ़ व दिल्ली पांचों स्थानों के खेल स्टेडियम बेहतर से बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर व खेल उपकरण व किट तथा उनके रहने-ठहरने की व्यवस्था उपलब्ध करवाई जाए।

 


फिट इंडिया को भी आगे बढ़ाना है
उल्लेखनीय है कि खेलो इंडिया यूथ गेम्स में 18 वर्ष तक की आयु के खिलाड़ी ही भाग ले सकते हैं। परंतु इनका लक्ष्य फिट इंडिया अभियान को भी आगे बढ़ाना है। हरियाणा द्वारा आयोजित हो रहे इन खेलों के लिए एक नई खेल संस्कृति जागृत हुई है। खेल मशाल व मस्कट ‘धाकड़’ पूरे राज्य में घूम रहा है जिसका लक्ष्य हर आयु वर्ग के लोगों को जोडऩा है।

 


आयोजन से एक दिन पहले कबड्डी व वॉलीबाल से की जाएगी शुरूआत
3 जून को ताऊ देवीलाल स्टेडियम के खेल भवन-2 में कबड्डïी व वॉलीबाल की प्रतियोगिताओं से शुरूआत की जाएगी। हरियाणा में आने वाले खिलाडिय़ों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए ऐप भी जारी किया जाएगा। इसके अलावा, भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा कॉल सैंटर का टोल फ्री नंबर 1800-202-5155 भी जारी किया गया है। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News