IT पार्क हाऊसिंग स्कीम : ड्राइंग फाइनल, 788 फ्लैट्स बनाएगा बोर्ड

2020-01-19T09:49:42.077

चंडीगढ़(राजिंद्र) : चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड ने आई.टी. पार्क में जल्द ही हाउसिंग स्कीम लांच करने की तैयारी कर ली है, क्योंकि प्रोजैक्ट के लिए बोर्ड ने ड्राइंग फाइनल कर ली है, जिसके तहत यहां पर 788 फ्लैट्स का निर्माण करवाया जाएगा। पहले बोर्ड ने यहां 1100 फ्लैट्स का निर्माण करवाने का फैसला लिया था। इन फ्लैट्स के बीच अब स्पेस अधिक होगा, क्योंकि यू.टी. प्रशासन की तरफ से इसके लिए रिवाइज्ड जोनिंग प्लान भी जारी कर दिया गया है। 

बोर्ड के चेयरमैन अजोय कुमार सिन्हा ने बताया कि उन्होंने प्रोजैक्ट के लिए ड्राइंग फाइनल कर ली है। इसे लेकर अर्बन प्लानिंग डिपार्टमैंट से भी मीटिंग हुई थी, जिसमें उन्होंने ड्राइंग पर अपनी सहमति जता दी है। इससे पहले बोर्ड ने जो कंसल्टैंट हायर किया था, उसने ड्राइंग को लेकर अपनी प्रेजेटैंशन दी थी, जिसमें आर्किटैक्ट विभाग ने इन को ड्राइंग मंजूरी दे दी है। 

इससे पहले कंसल्टैंट ने पांच डिजाइन दिए थे। इनमें से कौन सा डिजाइन जोनिंग प्लान के मुताबिक फिट बैठता है, ये आर्किटैक्ट विभाग ने तय करना था, जिसे तय करने में ही ये देरी हुई।

दो साइट पर बनने हैं ये फ्लैट :
बोर्ड के पास आई.टी. पार्क में 123 एकड़ भूमि है, जिसमें 20 साइट पर डिवैल्पमैंट की जानी है। बोर्ड ने दो साइट पर 788 फ्लैट्स का निर्माण करना है, जबकि बाकी 18 साइट प्राइवेट बिल्डरों को डिवेल्पमैंट के लिए देनी है। इसके लिए बोर्ड ने पहली बार प्राइवेट कंसल्टैंट बाय डिजाइन हायर किया था, ताकि प्राइवेट बिल्डरों से मुकाबला किया जा सके और बेहतर डिजाइन के साथ फ्लैट्स तैयार किए जा सकें।

होंगी सभी सुविधाएं :
बोर्ड द्वारा दो साइट 17 एकड़ भूमि पर फ्लैट्स का निर्माण करवाया जाएगा, जिसमें ई.डब्ल्यू.एस., वन बैडरुम, टू बैडरुम और थ्री बैडरुम फ्लैट्स शामिल होंगे। ये सेवन स्टोरी फ्लैट्स होंगे, जिसमें जिम और स्वीमिंग पूल का निर्माण भी करवाया जाएगा। 

बोर्ड के मुताबिक वर्तमान कलैक्टर रेट के हिसाब से फ्लैट्स की कीमत पहले की स्कीमों के मुताबिक अधिक होगी। वर्ष 2015 में बोर्ड को पाश्र्वनाथ डिवैल्पर्स से 123 एकड़ भूमि वापस मिली थी, जिसके बाद से ही बोर्ड इसकी डिवैल्पमैंट के लिए लगा हुआ है। 

बता दें कि दो साल से 18 साइट्स को डिवैल्प करने के लिए बोर्ड बोलीदाता ढूंढने में असफल रहा। यही कारण है कि बोर्ड ने बोलीदाताओं को लुभाने के लिए रोड़ साइड 10 एकड़ भूमि पर फाइव स्टार होटल, मल्टीप्लैक्स और मॉल का निर्माण करने का भी प्लान तैयार किया था।

अधिकारियों के भी बनने हैं :
बोर्ड ने पंजाब, हरियाणा व यू.टी. के अधिकारियों के लिए भी यहां 6.73 एकड़ एरिया में फ्लैट्स का निर्माण करवाना है। बता दें कि एक टावर में 28 फ्लैट्स अधिकारियों के लिए होंगे, जबकि 28 ई.डब्ल्यू.एस. फ्लैट्स दूसरे टावर में सर्वेंट क्वार्टर होंगे। इस तरह तीनों को एक टावर के लिए टैक्स सहित कुल राशि 66 करोड़ रुपए बोर्ड को देनी होगी। इसमें एल.एल.ए. फ्लैट्स बनाने की भी पंजाब, हरियाणा से डिमांड आई है। 


Priyanka rana

Related News