पी.जी.आई. अथॉरिटी कोरोना बैड की बढ़ाए संख्या

2021-04-23T00:32:06.093

चंडीगढ़ (राजिंद्र शर्मा) : यू.टी. प्रशासक के सलाहकार मनोज कुमार परिदा ने शहर में कोरोना के बढ़ते केसों के बीच पी.जी.आई. में उचित बंदोबस्त करने के लिए मिनिस्ट्री के सैक्रेटरी हैल्थ एंड फैमिली वैल्फेयर राजेश भूषण से हस्तक्षेप की मांग की है। परिदा ने कहा कि शहर में कोरोना के बढ़ते केसों के चलते पी.जी.आई. को उचित दिशा-निर्देश जारी किए जाने चाहिए, जिसमें एक तो पी.जी.आई. अथॉरिटी 500 तक कोरोना बैड की संख्या बढ़ाए, क्योंकि उनके पास लगभग 2 हजार के करीब बैड हैं। इसके अलावा कोविड ट्रीटमैंट के लिए 100 आई.सी.यू. बैड को मैंटेन किया जाना चाहिए, ताकि कोरोना के गंभीर मरीजों को इलाज करवाने में किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े। 

 


जैसे केस बढ़ रहे, ऐसे में अभी से व्यवस्था करने की जरूरत
पत्र में परिदा ने कहा है कि जिस तरह से शहर में अचानक कोरोना के केस बढ़ गए हैं, वह चौंकाने वाले हैं। इसे लेकर अभी से व्यवस्था करने की जरूरत है। शहर में फिलहाल 4 हजार से ऊपर कोरोना के एक्टिव केस हैं। साथ ही रोजाना 500 से ऊपर कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए वह सैक्टर-16 अस्पताल और सैक्टर-32 अस्पताल में उचित प्रबंध कर रहे हैं। साथ ही इनकी कैपेसिटी भी बढ़ा रहे हैं, लेकिन पी.जी.आई. से उन्हें अभी मदद की जरूरत है, जिसके चलते ही उन्हें ये उचित निर्देश जारी किए जाने चाहिए। 

स्टाफ की वैक्सीनेशन को भी बढ़ाए
सलाहकार ने कहा कि पी.जी.आई. को ये भी निर्देश जारी किए जाएं कि वह अपने स्टाफ की वैक्सीनेशन को बढ़ाए। साथ ही प्रिंसीपल सैके्रटरी हैल्थ के साथ को-आर्डिनेट करें, ताकि वह अपने कोविड मैनेजमैंट प्लान को सही रूप से लागू कर सकें। बता दें कि शहर में वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू किए हुए काफी समय हो गया है, लेकिन अभी भी सभी वर्कर्स वैक्सीन के लिए आगे नहीं आ रहे हैं। यही कारण है कि प्रशासन हैल्थ वर्कर्स के लिए भी वैक्सीनेशन ड्राइव को बढ़ाना चाहता है। 
 


News Editor

ashwani

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static