चैस ओङ्क्षलपियाड :वह दिन दूर नहीं जब घर-घर खेली जाएगी चैस : दीप सेनगुप्ता

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 08:05 PM (IST)

चंडीगढ़,(लल्लन यादव): वह दिन दूर नहीं जब देश के हर घर में चैस खेली जाएगी। ग्रेंड मास्टर दीपसेन गुप्ता ने यह बात ओङ्क्षलपियाड मशाल रिले लेकर शहर पहुंचने के दौरान मीडिया से बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि अभी चैस के प्रति लोग जागरूक नहीं हैं, लेकिन भारत सरकार की तरफ से चैस ओङ्क्षलपियाड का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें करीब 178 देश भाग ले रहे हैं। जो सरकार की तरफ से ओङ्क्षलपियाड मशाल हर शहर में लेकर जा रहे हैं। इससे लोग चैस खेल के प्रति जागरूक होंगे। उन्होंने कहा इंडिया में जैसे क्रिकेट व फुटबाल के लोग दीवाने हैं उसी तरह वह दिन दूर नहीं जब चैस हर घर में खेली जाएगी। इसके साथ ही सवालों का जवाब देते हुए दीप सेन गुप्ता ने कहा कि चैस में देश के युवा खिलाड़ी बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। ऐसे में भारत का भविष्य बेहतरीन हैं।
 


युवा ऑनलाइन भी ले सकते हैं चैस की कोङ्क्षचग
चैस फैडरेशन ऑफ इंडिया चैस को बढ़ावा देने के लिए हर प्रयास कर रही है, लेकिन जिन शहरों में कोङ्क्षचग सैंटर व कोच नहीं हैं वहां भी ट्रेङ्क्षनग ले सकते हैं। ग्रेंड मास्टर दीपसेन गुप्ता ने बताया कि आजकल ऑनलाइन भी प्लेयर ट्रेङ्क्षनग ले सकते हैं। शहर में चल रही एसोसिएशन चैस को लेकर बेहतरीन कार्य कर रही है और साल में करीब 3 से 4 स्टेट टूर्नामैंट व नैशनल का विभिन्न वर्गों का आयेाजन किया जा रहा है। जिससे जूनियर खिलाडिय़ों को बेहतरीन प्लेटफार्म मिल रहा है। ऐसे में बच्चे को दिमाग लगाना चाहिए और ट्रेङ्क्षनग के कई विकल्प हैं। ऐसे में यदि कोच न भी हो तो ऑनलाइन ट्रेङ्क्षनग लेकर अपने खेल को बेहतरीन बना सकते हैं।

 

 

चैस में इंडिया टॉप थ्री में शामिल
गुप्ता ने बताया कि इस समय इंडिया टीम टॉप थ्री में है। उम्मीद है कि स्थिति में सुधार होगा। एक सवाल का जवाब देते हुए दीपसेन ने कहा कि भारत में होने वाले ओङ्क्षलपियाड में भारत की पांच सदस्यीय टीम भाग ले रही है। जिसमें कम से कम दो स्वर्ण पदक  आने की उम्मीद कर सकते हैं। यू.एस.ए. की टीम बेहतरीन है, जिससे भारत के खिलाडिय़ों को सतर्क व बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करना होगा। 

 


चैम्पियनशिप के लिए 30 जून को होंगे रवाना
दीपसेन गुप्ता ने बताया कि फैडरेशन की तरफ से ओङ्क्षलपियाड मशाल रिले की जिम्मेदारी मुझे दी गई है। जो मेरे लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश से यह मशाल चंडीगढ़ पहुंची और इसके बाद अमृतसर के लिए रवाना होगी। उन्होंने अपने टूर्नामैंट के बारे में कहा कि यह चैम्पियनशिप फ्रांस में खेली जा रही है और वे ओपन चैस चैम्पियनशिप के लिए 30 जून को रवाना होंगे।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News