डी.ए.पी. के दामों में बढ़ोत्तरी को तुरंत वापस लिया जाए : दीपेंद्र हुड्डा

2021-04-08T19:27:59.857

चंडीगढ़,(बंसल): राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने डी.ए.पी. के दामों में की गई भारी बढ़ोत्तरी पर नाराजगी जताते हुए कहा कि किसान पहले ही दर्द से तड़प रहा है ये भारी भरकम चोट वो कैसे बर्दाश्त करेगा। किसान देश की अर्थव्यवस्था का मजबूत स्तंभ है, पता नहीं सरकार उससे कौन सी दुश्मनी निकाल रही है। सरकार जो सौतेला व्यवहार किसानों के साथ कर रही है वैसा व्यवहार तो कोई दुश्मन के साथ भी नहीं करता। उन्होंने कहा कि 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का झांसा देकर सत्ता हथियाने वाली भाजपा में किसानों की आमदनी दोगुनी तो छोडि़ए, किसान का खर्चा कई गुना बढ़ चुका है।

 

उन्होंने सरकार से मांग की कि डी.ए.पी. के दामों में की गई बढ़ोत्तरी को तुरंत वापस लिया जाए। उन्होंने कहा कि कृषि लागत बढ़ रही है, समर्थन मूल्य मिल नहीं रहा पर सरकारी ‘गुलाबी फाइलों’ में ‘आय दोगुनी’ हो रही है। किसान और किसानी को बर्बाद करने पर तुली भाजपा सरकार ने पहले से ही महंगे डीजल, फसलों के कम भाव की मार से जूझ रहे किसानों से बदला निकालने व उन्हें आॢथक रूप से तोडऩे के लिए डी.ए.पी. के दाम 58.33 प्रतिशत यानी 700 रुपए बढ़ाने का काम किया है।

 

जो खाद की बोरी 1,200 रुपए में मिलती थी, उसका दाम अब 1,900 रुपए कर दिया गया। किसानों को भी क्या पता था कि किसान सम्मान निधि से भी कई गुना पैसा उनसे ही वसूला जाएगा।


News Editor

Vikash thakur

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static