आई.ए.एस.रिश्वत मामला:पंजाब विजीलैंस अधिकारियों पर दर्ज हो एफ.आई.आर., उसके बाद होगा पोस्टमार्टम : श्री पोपली

punjabkesari.in Sunday, Jun 26, 2022 - 09:20 PM (IST)

चंडीगढ़,(सुशील राज) : मेरे बेटे की हत्या करने वाले पंजाब विजिलैंस के अधिकारियों पर पहले हत्या की एफ.आई.आर. दर्ज करो, उसके बाद बेटे कार्तिक पोपली के शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। जब तक एफ.आई.आर. नहीं होती तब तक पोस्टमार्टम नहीं होगा। बेटे की याद में रोते-रोते रिश्वत मामले में फंसे पंजाब के आई.ए.एस. संजय पोपली की पत्नी श्री पोपली ने कहा कि पंजाब विजिलैंस के अधिकारियों पर एफ.आई.आर. दर्ज करवाने के लिए वकील रविवार सुबह ही सैक्टर-11 स्थित कोठी नंबर 520 में पहुंच गए थे। अगर पुलिस मामले में एफ.आई.आर. दर्ज नहीं करेगी तो अदालत का दरवाजा खटखटाया जाएगा। मामले का जांच अधिकारी रविवार सुबह ही पोस्टमार्टम की प्रक्रिया को लेकर श्री पोपली के पास पहुंच गए थे। उन्होंने पोस्टमार्टम करवाने से साफ इंकार कर दिया। पुलिस के आला अधिकारी श्री पोपली और उनके रिश्तेदारों को काफी समझाने में लगे, लेकिन उनकी बात नहीं मानी गई। आखिर में तय हुआ कि बेटे कार्तिक के शव का पोस्टमार्टम सोमवार को करवाया जाएगा।

 


संस्कार में शामिल होने की ली जाएगी परमीशन
रिश्वत मामले में फंसे संजय पोपली को बेटे कार्तिक पोपली के संस्कार में शामिल होने के लिए अदालत से परमीशन लेनी होगी। अदालत द्वारा परमीशन मिलने के बाद पंजाब पुलिस संजय पोपली को हिरासत में लेकर सैक्टर-25 स्थित शमशानघाट आएगी। संस्कार के बाद वहीं से उन्हें वापस जेल पुलिस जवान लेकर जाएंगे। इस समय संजय पोपली न्यायिक हिरासत में चल रहे हैं।

 


संजय पोपली को देर रात तीन बजे अस्पताल से किया डिस्चार्ज
संजय पोपली की तबीयत खराब होने पर उन्हें जी.एम.सी.एच. 32 की इमरजैंसी में दाखिल करवाया गया था। इसके बाद उनका चैकअप साइक्रेटिक और मैडिसन के डाक्टरों ने किया। छह घंटे के चैकअप के बाद डाक्टरों ने संजय पोपली को फिट बताकर उन्हें देर रात तीन बजे डिस्चार्ज कर दिया। विजिलैंस टीम ने रात को उन्हें ड्यूटी मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। जहां से संजय पोपली को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
 

 

विजिलैंस टीम मुझे बेटे की तरह मार देगी : पोपली
विजिलैंस टीम मेरे बेटे की तरह मुझे मार देगी। मेरी जान को खतरा है। यह आरोप आई.ए.एस. संजय पोपली ने जी.एम.सी.एच. 32 से डिस्चार्ज होने के समय लगाए। उन्होंने कहा कि मेरे बेटे को विजिलैंस टीम ने मेरी आंखों के सामने गोली मारी है। विजिलैंस टीम परिवार पर दवाब डालकर जबरदस्ती रिश्वत की बात मनाना चाहती थी।
 

 

संजय पोपली से खाली पेज पर साइन करवाना चाहती थी टीम
रिश्वत मामले में गिरफ्तार आई.ए.एस. संजय पोपली को विजिलैंस टीम शनिवार दोपहर को सैक्टर-11 स्थित 520 नंबर घर में छानबीन के लिए आई थी। इस दौरान बेटे कार्तिक ने पहली मंजिल के कमरे में जाकर पिता की पिस्टल से सिर में गोली मार ली थी। पुलिस कार्तिक को अस्पताल लेकर गई थी। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित किया था। मामले में संजय पोपली और उनकी पत्नी श्री पोपली ने बेटे की हत्या करने के आरोप पंजाब विजिलैंस टीम पर लगाए थे। उन्होंने कहा था विजिलैंस टीम ने बेटे को गोली मारी थी। टीम पति संजय पोपली से खाली पेज पर साइन करवाना चाहती थी। उन्होंने कहा था विजिलैंस ने कार्तिक को काफी टार्चर किया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News