हाईकोर्ट की स्टे के बावजूद स्यूंक में करोड़ों की शामलात जमीन पर बिल्डर कर रहे कब्जे

5/7/2021 12:22:26 AM

चंडीगढ़ (रमेश हांडा): मोहाली से सटे गांव स्यूंक में हजारों कनाल शामलात जमीन पर राजनीतिक रसूख और सरक्षण के चलते बिल्डरों द्वारा नाजायज कब्जे किए जा रहे हैं। ग्रामीणों ने इस बाबत विरोध जताया है। उनका कहना है कि वे लोग इस संबंध में मोहाली के उपायुक्त व अन्य संबंधित अधिकारियों को लिखित में शिकायतें देते रहे हैं लेकिन बिल्डरों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही। न ही हाईकोर्ट के आदेशों की प्रशासन पालना ही कर रहा है।

 


गांव के निवासी बहादुर सिंह ने बताया कि गांव में 11380 कनाल जमीन शामलात है, जहां 30 प्रतिशत से अधिक जमीन पर बिल्डरों ने कब्जे कर कॉलोनियां काटनी शुरू कर दी हैं। कांसल के एक नामी बिल्डर ने किराए के गुंडों को लाकर शामलात जमीन में ग्रामीणों द्वारा डाले गए शैड जबरन गिरा दिए। ग्रामीणों का कहना है कि जो हाईकोर्ट का फैसला होगा, उन्हें मंजूर होगा लेकिन उससे पहले प्रशासन यहां यथास्तिथि बनाए रखे वरना ग्रामीणों को सड़कों पर उतरना पड़ेगा। इस संबंध में आरोपी बिल्डर रणधीर सूद ने कहा है कि सभी आरोप निराधार हैं। जो लोग उनके खिलाफ आरोप लगा रहे हैं, वे ब्लैकमेलर हैं, जिन्होंने जमीनों पर नाजायज कब्जे किए हुए हैं। उन्होंने कहा कि वह हर प्रकार की जांच में सहयोग को तैयार हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

AJIT DHANKHAR

Recommended News

static