अब पार्षदों की देखरेख में बांटा जाएगा अनाज

09/20/2021 10:33:51 PM

चंडीगढ़, (राय): फूड एंड सप्लाई सैक्रेटरी विनोद कावले ने सभी पार्षदों की मीटिंग बुलाई जिसमें उनके साथ फूड एंड सप्लाई डायरैक्टर नितिका और तेजपाल सैनी भी थे। कांग्रेस की तरफ से निगम में विपक्ष के नेता देविंद्र सिंह बबला और पार्षद गुरुबख्श रावत मौजूद थीं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद, महामंत्री रामवीर भट्टी, मेयर रविकांत शर्मा के साथ शहर के सभी निर्वाचित पार्षद व मनोनीत पार्षद भी शामिल हुए।

 

बता दें कि धनास में खराब अनाज के बांटे जाने की शिकायत मिलने के बाद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अरुण सूद ने तुरंत संज्ञान लेते हुए प्रदेश महामंत्री रामवीर भट्टी व मेयर रवि कांत शर्मा से सही जानकारी ली और प्रशासक के सलाहकार धर्मपाल से बात की, जिसके फलस्वरूप प्रशासन द्वारा यह बैठक बुलाई गई। बैठक में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद के कहने पर फैसला लिया गया कि इंदिरा कॉलोनी, बापूधाम, मौली जागरां,  मलोया, दरिया और धनास में जहां भी घटिया अनाज वितरण की शिकायत मिली है, उसे तुरंत बदला जाएगा। इसके लिए पब्लिक नोटिस जारी किया जाएगा और खराब अनाज बदला जाएगा। यह भी फैसला लिया गया कि राशन बांटने के लिए सभी निर्वाचित और मनोनीत पार्षदों को पर्चियां दी जाएंगी और उन्हीं की देखरेख में अनाज वितरण किया जाएगा। 

 


दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई होगी
सूद ने कुछ पात्र लोगों के नाम सूची से काटे जाने जाने का मामला भी उठाया जिस पर फैसला लिया गया कि जिन पात्र लोगों के नाम लिस्ट से कट गए हैं उनकी दोबारा से जांच की जाएगी और अगर जांच सही व पात्र पाए जाते है तो उन्हें दोबारा लिस्ट में जोड़ दिया जाएगा। इसी प्रकार जो लोग इस सूची में शामिल होने के लिए पात्र हैं। उन्हें भी धक्के नहीं खाने पड़ेंगे उनके लिए राशन कार्ड बनवाने का फार्म ऑनलाइन उपलब्ध हो जाएगा तथा सभी एस.डी.एम. दफ्तरों में ड्रॉप बॉक्स लगाए जाएंगे जिनमें फार्म भर कर डाले जाएंगे। जांच में सही पाए गए और पात्र होने पर डी.बी.टी. स्कीम के तहत आने वाली स्कीमों में शामिल हो जाएंगे। सूद ने खराब अनाज बांटे जाने की जांच करवाने व दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई करने की भी मांग की, जिसे सर्वसम्मति से मान लिया गया।


फूड एंड सप्लाई विभाग निगम के हवाले करे प्रशासन: कांग्रेस 
कांग्रेस के दोनों पार्षदों ने कहा कि मौलीजागरां, बापूधाम, धनास, डड्डूमाजरा, मनीमाजरा, इंदिरा कॉलोनी में घटिया राशन गरीब लोगों को बांटा गया है। चंडीगढ़ प्रशासन सोता रहा। उन्होंने डिमांड की जो भी इसमें दोषी है उस पर पुलिस केस दर्ज कर पूरी जांच की जाए। दोनों पार्षदों ने ये भी कहा कि अगर प्रशासन से फूड एंड सप्लाई डिपार्टमैंट नहीं संभलता तो इसे नगर निगम के हवाले कर दिया जाए और राशन हर सैक्टर में बांटा जाए। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

ashwani

Recommended News