चंडीगढ़ स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक से लाखों की लूट मामले में आरोपी गिरफ्तार

punjabkesari.in Thursday, Feb 11, 2021 - 08:33 PM (IST)

चंडीगढ़, (सुशील राज) : सैक्टर-61 स्थित चंडीगढ़ स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक में पिस्टल दिखाकर 8 लाख 65 हजार 452 रुपए लूट मामले में फरार लुटेरे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने बी फार्मेसी की डिग्री कर रखी है और वह सेल एंड मार्कीटिंग की नौकरी करता था। लॉकडाऊन में नौकरी छूट गई थी। वह नशे  का भी आदी था और नशे की लत पूरी करने और घर की जरूरतों को पूरा करने के लिए उसने लूट की योजना बनाई थी। आरोपी शादीशुदा है और उसके दो बच्चे भी हैं। आरोपी की पहचान मोहाली फेज-3 निवासी हरजोत सिंह के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर बैंक से लूटे हुए 8 लाख 48 हजार 952 रुपए, ट्वॉय पिस्टल और स्विफ्ट कार बरामद कर ली है। आरोपी नशे का आदी है और सैक्टर-61 की मार्कीट में अक्सर कोरेक्स सिरप पीकर आता था। 

 


लुटेरा दो दिन के पुलिस रिमांड पर 
सैक्टर-36 थाना पुलिस ने पकड़े गए लुटेरे हरजोत सिंह को जिला अदालत में पेश किया। पुलिस ने लूटी हुई रकम से कम हुए 17 हजार रुपए बरामद करने के लिए आरोपी का पांच दिन का पुलिस रिमांड मांगा। अदालत ने आरोपी को दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।


पता था बैंक में सी.सी.टी.वी. कैमरे काम नहीं कर रहे
एस.एस.पी. कुलदीप सिंह चहल ने बताया कि 8 फरवरी को चंडीगढ़ स्टेट को ऑपरेटिव बैंक में आठ लाख 65 हजार रुपए लूट करने वाले लुटेरे को पकडऩे के लिए ए.एस.पी. साऊथ श्रुति अरोड़ा के नेतृत्व में सैक्टर-36 थाना प्रभारी मनिंदर सिंह समेत अन्य जवानों की स्पैशल टीम बनाई थी। पुलिस टीम लुटेरे को पकडऩे के लिए कई पहलुओं पर जांच करने लगी। इस दौरान पुलिस ने नशा करने वाले युवकों का रिकार्ड चैक किया तो सैक्टर-61 की मार्कीट में नशा खरीदने वाले युवक पर पुलिस को शक हुआ। थाना प्रभारी मनिंदर सिंह ने सारे सबूत इकट्ठे कर लूट करने वाले युवक को मोहाली स्थित घर से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गया लुटेरा हरजोत बचने के लिए बहाने बनाने लगा जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने लूट की बात कबूल की। लूट से पहले आरोपी ने सैक्टर-61 की मार्कीट में आकर बैंक की पूरी रैकी थी। उसको यह भी पता था कि बैंक में कुछ समय से सी.सी.टी.वी. कैमरे काम नहीं कर रहे थे। इसी का फायदा हरजोत ने उठाया।


बैंक के पीछे गाड़ी खड़ी कर आया था 
बैंक में लूट करने के लिए हरजोत ने सबसे पहले मर्कीट से ट्वॉय पिस्टल खरीदी थी। इसके बाद उसने स्विफ्ट गाड़ी बैंक के पीछे सड़क पर खड़ी कर दी और बैंक के साथ लगते छोटे रास्ते से वह बैंक गया और लूट की वारदात को अंजाम देकर गाड़ी से फरार हो गया। लुटेरे को पता था कि सुबह के समय बैंक में कस्टमर कम आते हैं, जिसका फायदा हरजोत ने उठाया।


चौकी के नजदीक की थी वारदात
8 फरवरी की सुबह सैक्टर-61 पुलिस चौकी से दस कदम की दूरी पर नकाबपोश पिस्टल से लैस लुटेरे ने चंडीगढ़ स्टेट कोऑपरेटिव बैंक से नगदी लूट ली थी। वारदात के समय सी.सी.टी.वी. कैमरे नहीं चल रहे थे। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल की जांच कर बैंक मैनेजर अनुराधा अवस्थी की शिकायत पर लुटेरे के खिलाफ लूट और आम्र्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

ashwani

Related News

Recommended News