भारत को दुनिया का सिरमौर बनाने में हरियाणा के खिलाडिय़ों का अहम योगदान : दत्तात्रेय

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 07:05 PM (IST)

चंडीगढ़,(बंसल): हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि भारत को दुनिया का सिरमौर बनाने में हरियाणा के खिलाडिय़ों का अहम योगदान है। सरकार की नई खेल नीति युवाओं के लिए बड़ी कारगर सिद्ध हुई है। इसमें युवाओं को नकद पुरस्कार के साथ-साथ नौकरियां भी प्रदान की जा रही हैं। राज्यपाल आज पंचकूला के इंद्रधनुष ऑडिटोरियम में अंतर्राष्ट्रीय ओलिम्पिक दिवस पर आयोजित समारोह में खिलाडिय़ों को राज्य के सर्वश्रेष्ठ भीम अवार्ड से सम्मानित कर रहे थे। उन्होंने प्रदेश के 52 खिलाडिय़ों को भीम अवार्ड, 5 लाख रुपए की नकद राशि, ब्लेजर और अलंकरण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इनमें 19 विशेष पैरा खिलाड़ी भी शामिल हैं। इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता, खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह, मुख्य सचिव संजीव कौशल, ए.सी.एस. डा. महाबीर सिंह, खेल एवं युवा मामले विभाग के निदेशक पंकज नैन सहित कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। 

 


राज्यपाल ने कहा कि ओलिम्पिक, राष्ट्रमंडल जैसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खेलों में हरियाणा की रैंकिंग देखने योग्य होती है। हरियाणा को खेलों का पर्याय समझा जाने लगा है। जहां भी खेलों की चर्चा होती है तो सबसे ऊपर हरियाणा का नाम आता है। उन्होंने कहा कि जिन खिलाडिय़ों ने खेलों में निरंतर उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है, उनको भीम अवार्ड से नवाजा जाता है। इसके अलावा उन्हें हर माह 5 हजार रुपए की राशि मानदेय के रूप में भी प्रदान की जाती है। 

 


अर्जुन अवार्ड व भीम अवार्ड से सम्मानित होना गौरव की बात: संदीप सिंह 
खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह ने भीम अवाॢडयों को अंतर्राष्ट्रीय ओलिम्पिक दिवस की बधाई देते हुए कहा कि खिलाडिय़ों को मैडल जीतते समय जो खुशी होती है, उससे ज्यादा खुशी अवार्ड लेते समय होती है। अर्जुन अवार्ड व भीम अवार्ड से सम्मानित होना गौरव की बात है। इन अवार्ड की मेहनत में अभिभावक व कोच की भी अहम भूमिक होती है। उन्होंने कहा कि भीम अवार्ड को पारदर्शी ढंग से ऑनलाइन दर्शाने वाला हरियाणा पहला राज्य है, जिसमें सभी लोगों के समाने खिलाडिय़ों की उपलब्धियों को रखकर भीम अवाॢडयों की सूची को अंतिम रूप दिया जाता है। उन्होंने कहा कि खेलों को बढ़ावा देने के लिए खेलो इंडिया यूथ गेम की तर्ज पर मंडल, जिला, उपमंडल व खंड स्तर पर खेलों का आयोजन करवाया जाएगा। खेलों में घायल होने वाले युवाओं के स्वास्थ्य सुधार के लिए पंचकूला में नार्थ इंडिया का पहला स्पोटर््स रिहैबिलेशन सैंटर बनकर तैयार हो चुका है। इसके अलावा चार अन्य स्थानों पर भी ऐसे सैंटर खोले जाएंगे। 

 


हरियाणा के युवा रच रहे इतिहास: संजीव कौशल
हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल ने कहा कि हरियाणा के युवा खेल क्षेत्र में नया इतिहास रच रहे हैं। हरियाणा सरकार भी खेलों को बढ़ावा देने के लिए कारगर कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 250 करोड़ रुपए की लागत से विश्व स्तर का खेलों का इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया गया है। युवाओं को बेहतर सहूलियतें प्रदान करने में हरियाणा अग्रणी राज्य है। इसके साथ ही खिलाडिय़ों को ग्रुप डी की नौकरियों में 10 प्रतिशत आरक्षण भी दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि खेलो इंडिया में हरियाणा के खिलाडिय़ों ने बड़े राज्य महाराष्ट्र को पछाडऩे का कार्य किया। यह गौरवान्वित करने वाली उपलब्धि हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Ajay Chandigarh

Related News

Recommended News