See More

जून के निर्यात आंकड़ों में दिख सकती है आर्थिक क्षेत्र में सुधार की गति: गोयल

2020-07-03T23:40:13.807

नई दिल्लीः वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को कहा कि देश में कोविड-19 महामारी के कारण अप्रैल और मई में निर्यात में अच्छी-खासी गिरावट दर्ज किए जाने के बाद अब इसमें सुधार आ रहा है और जून के आंकड़े में यह सुधार परिलक्षित हो सकता है। 

वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिए निर्यात संवर्धन परिषदों को संबोधित करते हुए मंत्री ने कहा कि जून के आंकड़े में लाभ दिखेगा। सामानों का निर्यात पिछले साल की इसी माह की तुलना में 88 प्रतिशत के करीब पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि विदेशों में ज्यादातर बाजारों में इतनी तेजी से सुधार देखने को नहीं मिला है। आयात अभी भी पीछे है। 

गोयल ने कहा, ‘‘कोविड-19 के कारण वित्त वर्ष के पहले दो महीनों में निर्यात को झटका लगा लेकिन अब अर्थव्यवस्था को खोलने और आर्थिक गतिविधियों के बढ़ने के साथ यह तेजी से रास्ते पर आ रहा है। व्यापार आंकड़ा 15 जुलाई को जारी किया जाएगा। 

उन्होंने यह भी कहा कि अर्थव्यवस्था को खोलने के दूसरे चरण में और छूट दी गई है, ऐसे में उम्मीद है कि चीजें आने वाले समय में और बेहतर होगी। मंत्री ने उद्योगों से आयात पर अत्यधिक निर्भरता और कुछ क्षेत्रों तक सीमित रहने को लेकर सेचत किया। उन्होंने कहा कि इसके दीर्घकाल में गंभीर परिणाम हो सकते हैं। देश का निर्यात मई में 36.47 प्रतिशत घटकर 19.05 अरब डॉलर रह गया था। वहीं आयात 51 प्रतिशत घटकर 22.2 अरब डॉलर रहा।
 


Pardeep

Related News