रियल एस्टेट क्षेत्र में इस साल संस्थागत निवेश 4% बढ़कर 36,500 करोड़ रुपए तक: रिपोर्ट

2021-07-20T18:01:12.093

नई दिल्लीः देश के रियल एस्टेट क्षेत्र में चालू कैलेंडर साल में संस्थागत निवेश चार प्रतिशत बढ़कर पांच अरब डॉलर या 36,500 करोड़ रुपए पर पहुंचने का अनुमान है। संपत्ति सलाहकार कोलियर्स इंडिया की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के बीच निवेशक आकर्षक मूल्यांकन पर संपत्तियों की खरीद करेंगे। वर्ष 2020 में रियल एस्टेट क्षेत्र में संस्थागत निवेश 4.8 अरब डॉलर रहा था। 

कोलियर्स इंडिया की मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, चालू कैलेंडर वर्ष के पहले छह माह में देश के रियल एस्टेट क्षेत्र में निवेश 2.9 अरब डॉलर या 21,170 करोड़ रुपए रहा है। यह एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में दोगुना से अधिक की वृद्धि है। रिपोर्ट में कहा गया है, "हमारा अनुमान है कि पूरे साल के दौरान निवेश का आंकड़ा पांच अरब डॉलर या 36,500 करोड़ रुपए पर पहुंच जाएगा।'' 

कोलियर्स ने कहा कि कार्यालय संपत्तियों को लेकर निवेशकों का आकर्षण कायम है। चालू साल की पहली छमाही में कुल निवेश में से 35 प्रतिशत कार्यालय संपत्तियों में किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जनवरी-जून के दौरान औद्योगिक और भंडारण या गोदाम क्षेत्र में 77.5 करोड़ डॉलर या 5,657 करोड़ रुपए का निवेश आया। यह 2016 के बाद सबसे ऊंचा आंकड़ा है। कुल संस्थागत निवेश में इसका हिस्सा 27 प्रतिशत रहा। रिपोर्ट के अनुसार, आवासीय रियल एस्टेट क्षेत्र को नकदी की चुनौती से जूझना पड़ रहा है। चालू साल की पहली छमाही में रियल एस्टेट क्षेत्र में आए कुल संस्थागत निवेश में आवासीय क्षेत्र का हिस्सा सिर्फ चार प्रतिशत रहा।  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

jyoti choudhary

Recommended News