IL&FS को वित्त वर्ष 2019 में 22,527 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा

2019-12-05T17:07:51.623

नई दिल्लीः नकदी संकट से घिरी इंफ्रास्ट्रक्चर लिजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज (आईएलएंडएफएस) को वित्त वर्ष 2018-19 में 22,527 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ है। इसके पहले साल यानी वित्त वर्ष 2017-18 में कंपनी ने 333 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दर्ज किया था।

कंपनी ने जारी अपने बयान में कहा है कि उसका रेवेन्यू साल 2017-18 में 1,734 करोड़ रुपए से घटकर 824 करोड़ रुपए रह गया है। बता दें कि सरकार ने पिछले साल अक्टूबर महीने में बोर्ड को बर्खास्त कर दिया था। इसके बाद कंपनी का यह पहला रिजल्ट है। कंपनी का कहना है कि मार्च 2019 के आखिरी तक उसकी कुल एसेट्स 4,148 करोड़ रुपए थी, जो कि एक साल पहले 23,868 करोड़ रुपए की थी। कंपनी ने एक बयान में कहा है कि साल 2017-18 में उसकी देनदारी 18,276 करोड़ रुपए से बढ़कर 2018-19 में 21,083 करोड़ रुपए हो गई। 
 


Supreet Kaur

Related News