कहोगे नहीं तो मिलेगा कैसे

10/12/2021 3:48:54 AM

50 वर्षों बाद एक बुजुर्ग व्यक्ति एक अन्य बूढ़ी महिला से मिला जिसे वह अपनी जवानी के दिनों में जानता था। उसे वह एक अत्यंत खूबसूरत महिला के तौर पर याद थी पर एक ऐसी जिसके पीछे सभी लड़के थे। उसने कहा, ‘‘मैं तुमसे शादी करने को बहुत बेताब था।’’ उसने पूछा, ‘‘तो तुमने क्यों नहीं की?’’ बुजुर्ग व्यक्ति ने कहा, ‘‘मुझे डर था कि तुम इंकार कर दोगी।’’ बूढ़ी महिला बोली, ‘‘मैं ऐसा नहीं करती, मैं तुम्हें पसंद करती थी लेकिन तुमने कभी भी शादी के लिए मेरा हाथ नहीं मांगा।’’ जरा सोचें कि उसने एक खूबसूरत महिला को गंवा दिया क्योंकि उसने कभी उससे पूछा ही नहीं था। एक करोड़पति अपने कुछ उच्च वर्ग के मित्रों को घुमाने याट पर ले गए। वे एक निर्जन द्वीप के पास से गुजरे जहां एक लम्बी दाढ़ी तथा फटे-मैले कपड़ों वाला एक व्यक्ति खड़ा उनकी ओर देख रहा था। एक मित्र ने पूछा, ‘‘वह कौन है?’’

मेजबान ने कहा, ‘‘मैं नहीं जानता लेकिन जब भी हम यहां से गुजरते हैं  वह खड़ा होकर देखता रहता है। मुझे लगता है कि वह द्वीप पर फंस गया है।’’ उसके मित्र ने पूछा, ‘‘तो तुम उसे वहां से निकाल क्यों नहीं लेते?’’अमीर व्यक्ति ने कहा, ‘‘उसने मदद के लिए कहा ही नहीं, क्या उसे नहीं कहना चाहिए?’’मेरी पुस्तक ‘डेयर’ में एक चैप्टर का नाम है ‘डेयर टू आस्क’ यानी पूछने की हिम्मत करो जिसमें मैंने हैरानी जताई है कि यदि लोगों ने एक-दूसरे से कुछ पूछा ही नहीं होता तो हमारी दुनिया का क्या होता? कोई बिक्री नहीं, न ही व्यवसाय और संभवत: शादियां भी नहीं। 

क्या आपको अंग्रेजी के शब्द ‘मेडे’ (द्वड्ड4स्रड्ड4) बारे जानकारी है, जिसका इस्तेमाल पायलटों तथा जलपोतों के कप्तानों द्वारा किसी आपातकाल में किया जाता है, जो फ्रांसीसी शब्द ‘‘एम’एडेज’’ (द्वज्ड्डद्बस्रद्ग5) से आया है जिसका अर्थ है ‘मेरी मदद करें’। मदद के लिए पूछें या कहें और आपको वह मिल जाएगी। न पूछें और किसी द्वीप पर फंसे रहें क्योंकि लोग हैरानी जताते रहेंगे कि आप पूछ क्यों नहीं रहे। आम तौर पर सहायता प्राप्त करना बहुत कठिन नहीं होता मगर इसे पाने से पहले आपको पूछना पड़ता है। यहां तक कि जीसस ने भी कहा है कि ‘‘आप पूछें तथा आपको वह दे दिया जाएगा!’’ 

उद्यमी ब्रायन ट्रेसी ने इसे बड़े अच्छे से व्यक्त किया है, ‘‘जो आप चाहते हैं उसके लिए पूछें। मदद के लिए पूछें, इनपुट के लिए पूछें, सलाह तथा विचारों के लिए पूछें लेकिन कभी पूछने से डरें नहीं।’’ या फिर जैसे एक व्यक्ति को यह कहते पाया गया, ‘‘आपको हमेशा वह नहीं मिलता जिसके लिए आप पूछते हैं लेकिन आपको वह कभी नहीं मिलता जिसके लिए आप पूछते नहीं, जब तक कि यह फ्लू न हो!’’ मैंने एक बार एक नन्ही लड़की के बारे में सुना था जो बड़े आत्मविश्वास के साथ एक पुलिस अधिकारी के पास पहुंची। उसने पूछा, ‘‘क्या आप एक पुलिसकर्मी हैं?’’ 

‘‘हां।’’‘‘मेरी मम्मी ने कहा है कि मुझे यदि कभी भी सहायता की जरूरत हो तो मैं आपसे पूछ सकती हूं।’’ अधिकारी ने उत्तर दिया, ‘‘निश्चित तौर पर तुम कर सकती हो, तुम्हें क्या चाहिए?’’उसने अपना पांव आगे बढ़ाया,  ‘‘क्या आप मेरे जूते के तस्मे बांध सकते हैं?’’ मेरे द्वारा आपका मूड हल्का-फुल्का करने के लिए मेरे इस छोटे से प्रयास पर आप बेशक फंस सकते हैं लेकिन आज पूछें और देखें कि क्या चीजें आपको मिलती हैं...!-राबर्ट क्लीमैंट्स


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Pardeep

Recommended News