See More

लालू की बहू ऐश्वर्या राय की चचेरी बहन राजद में शामिल

2020-07-02T23:59:00.627

पटना, दो जुलाई (भाषा) लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय की चचेरी बहन करिश्मा राय ने राजद का दामन थाम लिया है।

गौरतलब है कि तेजप्रताप यादव और पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा राय की पोती ऐश्वर्या का का मई, 2018 विवाह हुआथा। लेकिन छह महीने बाद ही यादव ने तलाक की अर्जी दे दी। राय फिलहाल अपने मायके में रह रही हैं।

वहीं आज करिश्मा राय ने राजद ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और लालू के छोटे पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव की उपस्थिति में पटना स्थित पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में आयोजित एक कार्यकम्र के दौरान राजद की सदस्यता ग्रहण की।

गौरतलब है कि ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय ने अपनी बेटी के साथ हुए अपमान का बदला लालू के परिवार से लेने की कसम खाई थी।

कयास लगाए जा रहे हैं कि चंद्रिका राय आसन्न बिहार विधानसभा चुनाव में लालू परिवार के खिलाफ जा सकते हैं और तेजप्रताप यादव के चुनाव लडने पर वे या उनकी पुत्री उनके खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं।

राजद के प्रदेश प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने करिश्मा रॉय को पार्टी में शामिल किए जाने को पारिवारिक दृष्टिकोण से न देखे जाने की बात करते हुए कहा, “कृपया परिवार के चश्मे से इसे न देखें। करिश्मा का राजद के साथ जुड़ने का फैसला चुनाव :आसन्न बिहार विधानसभा चुनाव: पार्टी के होने वाले करिश्मायी प्रदर्शन की ओर इशारा करता है।’’
उन्होंने कहा कि राजद और तेजस्वी यादव के युवा और गतिशील नेतृत्व की ओर अधिक से अधिक लोग पार्टी आकर्षित हो रहे हैं।

मृत्युंजय ने यह भी दावा किया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगुवाई वाले जदयू के हमारे पांच एमएलसी को शामिल कर लिए जाने के बाद से सत्तारूढ़ राजग के भीतर ही जंग छिड गयी है।

उन्होंने आने वाले समय में राजग को बड़ा झटका लगने का दावा करते हुए कहा कि जदयू और भाजपा के कई नेता भी हमारी पार्टी के नेतृत्व के संपर्क में हैं।

करिश्मा रॉय से लालू परिवार से उनके चाचा के विवादों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “मैं अपने चाचा पर टिप्पणी नहीं कर सकती। मैं उनकी बेटी की तरह हूं। वह राजनीति में एक अनुभवी हैं जबकि मैं नौसिखिया हूं। मैं केवल यह कह सकती हूं कि मैं पार्टी की एक प्रतिबद्ध सिपाही बनूंगी और जो भी भूमिका मुझे सौंपी जाएगी खुशी-खुशी निभाऊंगी।’’
बिहार भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि राजद यह प्रतीत न कराये कि दारोगा बाबू के परिवार के बहुत शुभचिंतक हो गए है। बिहार के ईमानदार मुख्यमंत्री रहे दारोगा बाबू की एक पौत्री का अपमान करने वाले लोग दुसरी पौत्री को राजद में शामिल कराकर गुनाहों परदेदारी नहीं कर सकता है। ऐश्वर्या राय पर हुए जुल्म-अपमान का दोषी तो लालू परिवार है ही। लालू परिवार को ऐश्वर्या राय से सार्वजनिक माफ़ी माँगनी चाहिए।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News