बच्चों को आतंकी बनाने के लिए ISIS कर रही मदरसों का इस्तेमाल: रिजवी

लखनऊः शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैय्यद वसीम रिजवी (Wasim Rizvi) ने आरोप लगाया है कि आंतकी संगठन आईएसआईएस (ISIS) मुसलमान गरीब बच्चों को आतंकी बनाने के लिए मदरसों का इस्तेमाल कर रही है।

दरअसल, रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को एक पत्र भेजा है, जिसमें कहा है कि यदि प्राथमिक मदरसे बंद नहीं हुए तो आने वाले 15 साल के बाद देश के आधे से ज्यादा मुसलमान ISIS की विचारधारा के समर्थक हो जाएंगे। कश्मीर में बहुत बड़ी तादाद में ISIS के समर्थक खुले तौर पर दिखाई दे रहे हैं। बहुत बड़े पैमाने पर मदरसे में इस्लामिक तालीम लेने वाले बच्चों को आर्थिक मदद पहुंचा कर इस्लामिक शिक्षा के नाम पर उनको दूसरे धर्मों से काटा जा रहा है और सामान्य शिक्षा से दूर किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि भारत में ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहे प्राथमिक मदरसे चंदे की लालच में हमारे बच्चों का भविष्य खराब करने पर आमादा हैं। उनको सामान्य शिक्षा से दूर रखकर उनमें इस्लाम के नाम पर कट्टरपंथी सोच पैदा की जा रही है जो हमारे मुसलमान बच्चों के लिए घातक है। साथ ही साथ देश के लिए भी एक बड़ा खतरा है।

Related Stories:

RELATED ISIS के Most wanted आतंकी मो. राजू ने गया कोर्ट में किया सरेंडर