नर्सरी दाखिले की दूसरी सूची में पहली सूची के ही वेटिंग छात्र

नई दिल्ली: राजधानी के निजी व मान्यता प्राप्त स्कूलों में नर्सरी, केजी व पहली कक्षा में दाखिले के लिए जनरल कैटेगरी की वीरवार को स्कूलों ने दूसरी सूची जारी की। हालांकि कई स्कूलों ने दूसरी सूची अपलोड ही नहीं की क्योंकि उन्होंने 4 फरवरी को जारी की गई पहली सूची की वेटिंग लिस्ट को ही दूसरी सूची के लिए योग्य मान लिया था। फीस को लेकर जो शिकायत अभिभावकों की पहली सूची के बाद थी वैसा ही एक मामला इस सूची के बाद भी सामने आया है। 

एडमिशन नर्सरी डॉट कॉम के संस्थापक सुमित वोहरा के मुताबिक जीटीबी एन्क्लेव ग्रीन फील्ड स्कूल ने अपनी वेबसाइट पर जारी किए गए नोटिफिकेशन में अभिभावकों से 4 पोस्ट डेटेड चेक मांगे हैं। जिन्हें जुलाई 2019 से लेकर मार्च 2020 तक के पीरिएड के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। सुमित के मुताबिक स्कूलों को स्कूल शिक्षा अधिनियम 1973 के नियम 165 का अनुपालन करने को निदेशालय ने पहले ही कह दिया था। जिसके अनुसार बच्चों की पढ़ाई के हर महीने का मासिक शुल्क महीने के 10वें दिन देने का उल्लेख है। इसके अलावा द्वारका, सेंट्रल दिल्ली, नॉर्थ दिल्ली, ईस्ट दिल्ली, साउथ दिल्ली और वेस्ट दिल्ली सभी जोनों ने अपना-अपना फीस स्ट्रक्चर अपलोड कर दिया है। 

दिल्ली पब्लिक स्कूल द्वारका ने बिना ट्रांसपोर्ट के जहां एक साल की फीस 1 लाख 23 हजार रुपए रखी है वहीं एसी बस स्लैब में आने पर यह फीस 1 लाख 53 हजार 950 रुपए रखी है। कई स्कूलों ने फीस का स्ट्रक्चर एडमिशन फीस, ट्यूशन फीस, डवलपमेंट फीस, वार्षिक देय व यातायात शुल्क मिलाकर और बिना ट्रांसपोर्ट के जारी किया है। कुछ स्कूल जहां लाखों चार्ज कर रहे हैं वहीं कुछ प्री -स्कूल 20 हजार रुपए प्रति वर्ष के खर्चे पर भी पूरे साल शिक्षा दे रहे हैं। मॉडर्न कॉन्वेंट ने एडमिशन फीस सहित समस्त खर्चे मिलाकर 20,078 रुपए प्रति वर्ष फीस रखी है।  

Related Stories:

RELATED नर्सरी दाखिला : लॉटरी में आया नाम, फिर भी नहीं मिला दाखिला