ब्रेक्जिट मामला: थेरेसा मे ने की घोषणा, 7 जून को UK के प्रधानमंत्री पद से देंगी इस्तीफा

लंदनः ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह सात जून को इस्तीफा दे देंगी। थेरेसा संसद में अपने भाषण के अंत में भावुक हो गई और उनकी आखें नम हो गईं। उन्होंने कहा कि हमारी राजनीति दबाव में हो सकती है लेकिन इस देश के लिए बहुत कुछ अच्छा है। इस पर हमें बहुत गर्व है।'' उन्होंने कहा कि मैं जल्द ही कार्य प्रभार छोड़ दूंगी जो मेरे जीवन का सम्मान रहा है। मैं जिस देश से प्यार करती हैं, मैं उसकी आभारी हूं।'' इसके साथ ही वह 10 अंक प्राप्त करने में सफल रहीं। इस्तीफा देने की घोषणा करते हुए थरेसा मे ने कहा कि काफी दबाव के बीच यह फैसला लिया है। अपने संबोधन के बीच में वे काफी बार भावुक हुई और बामुश्किल उन्होंने अपनी बात खत्म की। इस दौरान उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियां भी गिनाईं और कहा कि देश की कमान को संभालना मेरे लिए काफी सम्मानीय था। उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए बहुत गहरा खेद का विषय है कि मैं ब्रेक्सिट देने में सक्षम नहीं हूं। उल्लेखनीय है कि ब्रेक्जिट मामला थेरेसा मे के लिए बड़ा संकट साबित हुआ। इससे पहले गुरुवार को थरेसा मे अपने आक्रामक रुख पर कायम रहीं हालांकि, उनकी सरकार ने अपनी कंजरवेटिव पार्टी के भीतर ही कड़े विरोध के बीच ब्रेक्जिट समझौते पर संसद में प्रस्तावित मतदान को आगे के लिए टाल दिया था।


ब्रिटेन सरकार के व्हिप मार्क स्पेंसर ने संसद के निचले सदन हाउस आफ कामन्स में कहा कि वह अवकाश के बाद जून में संसद का सत्र फिर शुरु होने के बाद वह यूरोपीय संघ से निकलने के विधेयक के प्रकाशन और चर्चा के बारे में सांसदों को सूचित करेंगे। पहले उम्मीद दी थी कि ब्रेक्जिट विधेयक को शुक्रवार को पेश किया जाएगा।

स्पेंसर ने कहा, ‘‘हमें उम्मीद है कि हम दूसरी बार इस पर शुक्रवार 7 जून को दूसरी बार विचार करेंगे। फिलहाल इस पर सामान्य तरीके से सहमति नहीं बना सके हैं। बेशक, अवकाश से लौटने के बाद हम सदन को इस बारे में नई जानकारी देंगे। इसके कुछ ही देर बाद प्रधानमंत्री के कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट से एक वक्तव्य जारी किया गया कि ब्रिटेन की प्रधानमंत्री ‘‘ब्रेक्जिट को पूरा करने को'' प्रतिबद्ध हैं।

Related Stories:

RELATED GMCH-32 में 176 नर्सिंग स्टाफ रिजाइन देने को तैयार