कछुए दंपति का 100 साल बाद हुआ 'ब्रेकअप', समझौते के सारे प्रयास विफल

सिडनीः रिश्ता कोई भी हो उसका अंत दुख ही पहुंचाता है? फिर रिश्ता इंसानों के बीच हो या जानवरों के। आजकल एक कछुए दंपति का ब्रेकअप सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है। ये कछुआ दंपति है बीबी और पोल्डी। ये दोनों ही करीब पिछले 90 से ज्यादा सालों से एक-दूसरे के साथ थे लेकिन अब इनमें ब्रेकअप हो गया है। बीबी और पोल्डी, जो क्लेगनफर्ट, ऑस्ट्रिया के रेप्टीलिएन्जो हेप में रहते हैं और कभी एक-दूसरे के लिए जन्म-जन्मांतर के साथी माने जाते थे।



गले पर झुर्रियों वाल पोल्डी सुंदर और मिलनसार है। जबकि बीबी थोड़ी सी राजसी और नाटकीय है लेकिन उनके शौक एक जैसे ही हैं। दोनों को धूप में और छायादार जगहों पर एक साथ टहलना बहुत पसंद है। दोनों को टमाटर पसंद हैं और दोनों ही गैलापागोस से आए कछुए हैं। दोनों का इतिहास भी लगभग एक जैसा ही है। हालांकि दोनों की पहले की जिंदगी के बारे में जानकारियां ज्यादा साफ नहीं हैं । फिर भी दोनों 1897 में इस दुनिया में आए और एक साथ स्विट्जरलैंड के चिड़ियाघर में पले-बढ़े। पहली बार दोनों तब साथ आए जब उनकी उम्र 20 साल के आस-पास थी। इसके बाद उन्हें 70 के दशक के आखिरी में ऑस्ट्रिया लाया गया जिसके बाद उन्होंने एक लंबे वक्त तक चलने वाला, आरामदायक रिश्ता निभाया। नवंबर, 2011 में एक दिन यह सब बदल गया।



जब दोनों की देखरेख करने वाला एक शख्स उनके बाड़े में गया तो उसने देखा कि बीबी ने पोल्डी की शेल का एक बड़ा हिस्सा काट दिया था, जिससे खून आ रहा था।हालांकि गैलापागोस कछुओं के दांत कभी बड़े नहीं होते लेकिन इनके जबड़े बहुत ताकतवर होते हैं। ऐसे में देखरेख करने वालों ने सोचा कि अगर दोनों ऐसे ही लड़ते रहे तो एक दिन दोनों एक-दूसरे को मार सकते हैं इसलिए दोनों कछुए जिन्होंने एक-दूसरे के साथ करीब 100 साल गुजार लिए थे, दोनों को अलग कर दिया गया। दोनों कछुओं के इस तरह के अलगाव ने एक पूरे समुदाय को दुख पहुंचा है। चिड़ियाघर 'रेप्टीलिएन्जो हेप' की डायरेक्टर हेल्गा हेप ने कहा है कि यह एक परिवार की तरह है। इसे उनके पति फ्रेडरिक हेप ने शुरू किया था। 1976 में दोनों ही वहां मिले और अपने रिश्ते को और मजबूत किया।

2000 में फ्रेडरिक हेप का निधन हो गया। अब हेल्गा और फ्रेडरिक की बेटी, बेटा और पोती सारे इसी चिड़ियाघर में काम करते हैं जो करीब 1000 जीव-जन्तुओं की देखरेख करते हैं. इन जीवों में छोटे से पानी के सांपों से लेकर वॉटर ड्रैगन जैसे बड़े प्राणी भी शामिल हैं। ऐसे में जब बीबी और पोल्डी के बीच यह झगड़ा हुआ तो हेप्स परिवार और उनके कर्मचारियों ने दोनों के बीच रिश्तों को सुधारने की कोशिश की। वे जानते थे कि ये वही जोड़ा है जिसने साथ में 'सबसे बड़ी वैश्विक मंदी', दो विश्वयुद्धों और पूरी एक सहस्त्राब्दी को बदलते देखा है लेकिन सभी की पूरी कोशिशों के बाद भी दोनों के बीच कोई प्यार नहीं पनप सका। इसके बाद उन्होंने बाकायदा एक्सपर्ट से मदद ली गई।



पोल्डी की जांच भी हुई और पाया गया कि वो बिल्कुल फिट है और उनका दिमाग भी शांत है। यहां तक कि बीबी के लिए एक प्लास्टिक का कछुआ बनाकर देखा गया कि उसके प्रति उसका कैसा रुझान है? पोल्डी ने उस नए कछुए में कुछ इंट्रेस्ट दिखाया लेकिन बीबी ने उसको भी पूरी तरह से नज़रअंदाज किया।चिड़ियाघर के कर्मचारियों की सारी रणनीतियां बेकार हो चुकी हैं। दोनों को अब एक दीवार बांटती है। हालांकि दोनों के बीच कई बार कर्मचारियों ने एक शीशे की दीवार भी लगाई है ताकि दोनों एक-दूसरे को देख सकें लेकिन अभी तक इन प्रयोगों का कोई फायदा नहीं हुआ है।



हेप बताती हैं, "बीबी आज भी गार्डन में जाकर आराम से घास खाना पसंद करती है लेकिन जब वह अपने सामने पोल्डी को देखती है तो ऐसे फुफकारती है जैसे सांप। इसका मतलब साफ है कि वह उसके साथ नहीं जीना चाहती है। " दुनिया भर में ऑस्ट्रिया के इस चिड़ियाघर में हुए इस तथाकथित ब्रेकअप की चर्चा है। इन दोनों के ब्रेकअप ने सिर्फ ऑस्ट्रिया ही नहीं बल्कि दुनियाभर के लोगों को दुखी किया है। लोग बारीकी से दोनों की गतिविधियों को फॉलो कर रहे हैं और चाहते हैं कि दोनों में फिर से प्यार से जाए लेकिन बीबी की तरफ से अभी तक सख्त 'न' है।
 

Related Stories:

RELATED पहली बार अपने और करीना के ब्रेकअप पर बोले Shahid, कहा-बहुत बुरा लगता था जब...