संजीव खन्ना, दिनेश माहेश्वरी होंगे सुप्रीम कोर्ट में नए जज, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

नेशनल डेस्कः कर्नाटक उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश दिनेश माहेश्वरी और दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश संजीव खन्ना को बुधवार को उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश के तौर पर पदोन्नत किया गया। सरकार ने यह जानकारी दी है। 


इससे पहले कॉलेजियम द्वारा जस्टिस दिनेश माहेश्वरी और जस्टिस संजीव खन्ना की सिफारिशों को लेकर रिटायर्ड जज कैलाश गंभीर ने राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखकर इनका विरोध जताया था। कोविंद को सोमवार को लिखे पत्र में कैलाश गंभीर ने कहा है कि दोनों न्यायाधीशों को शीर्ष अदालत भेजने की सिफारिश करीब 32 न्यायाधीशों की अनदेखी कर की गई है, जो कि ‘भयावह और चौंकाने वाला’ है।


कैलाश गंभीर ने अपने पत्र में कहा है कि वह हाई कोर्ट के कई मुख्य न्यायाधीशों की अनदेखी कर 2 न्यायाधीशों को सुप्रीम कोर्ट भेजने की कॉलेजियम की सिफारिश की खबर पर विश्वास नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा है, “ईमानदारी से कहूं तो इस खबर ने पूरे विधि और न्याय जगत की सभी परंपराओं को तोड़ दिया है। 32 न्यायाधीशों की अनदेखी करने वाला यह भयावह और चौंका देने वाला फैसला है। इनमें से कई मुख्य न्यायाधीश भी हैं।

सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाले सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने 10 जनवरी को कर्नाटक हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी और दिल्ली हाई कोर्ट के जस्टिस संजीव खन्ना को सुप्रीम कोर्ट भेजने की सिफारिश की थी।

 

Related Stories:

RELATED शीना की हत्या के दिन संजीव खन्ना दक्षिणी मुंबई पहुंचे थे: चश्मदीद