बारिश से कई निचले स्थानों पर भरा पानी, लोग हुए परेशान

संगरूर (विवेक सिंधवानी, यादविन्द्र): मौसम विभाग द्वारा की गई 22 से 24 सितम्बर तक राज्य में वर्षा पडऩे की भविष्यवाणी सच साबित हुई व आज सुबह से ही संगरूर में लगाई वर्षा की झड़ी ने लोगों को गर्मी से राहत देते हुए शिमला जैसा सुहावना मौसम बना दिया। सुबह 5 बजे से कभी धीमी व कभी तेज वर्षा ने तापमान कम किया परंतु साथ आई तेज हवाओं ने कई जगह वृक्षों को उखाड़ दिया। शहर में पड़ी वर्षा से कई निचले स्थानों में पानी भरने से लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

उधर, निजी स्कूलों में छात्रों के पेपर होने के कारण छात्रों को वर्षा में ही पेपर देने जाना पड़ा, जबकि दोपहर छुट्टी के समय भी छात्र वापस घर वर्षा में भीगते ही लौटे। मतगणना केन्द्रों में लोग हुए परेशान :  आज जिला परिषद व ब्लाक समिति की पड़ी वोटों के गणना केन्द्रों पर भी वर्षा के कारण उम्मीदवारों व उनके समर्थकों सहित सुरक्षा कर्मियों को भी परेशानी का सामना करना पड़ा। ‘पंजाब केसरी’ टीम ने जब स्थानीय प्रेम सभा सीनियर सैकेंडरी स्कूल जहां कि गणना केन्द्र था, का दौरा किया तो देखा कि मतगणना केन्द्र के बाहर उम्मीदवारों के समर्थक इकट्ठे हुए थे परंतु वर्षा पडऩे कारण वे वृक्षों व आस-पास की दुकानों का सहारा लेते देखे गए। 

सुरक्षा कर्मी भी वर्षा में डटे रहे
मतगणना केन्द्र के बाहर सुरक्षा के लिहाज से लगाए मैटल डिटैक्टर के पास बाहर पार्किंग के पास व आसपास खड़े सुरक्षा कर्मी भी वर्षा में डटे रहे व पूरी मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी करते नजर आए। 

कहां-कहां कितनी पड़ी वर्षा
संगरूर में सुबह 32.00 एम.एम.
सुनाम 22.6 एम.एम.
लहरागागा 6.00 एम.एम.
मूनक 25.00 एम.एम.
धूरी 18.00 एम.एम.
मालेरकोटला 18.0 एम.एम.

Related Stories:

RELATED तेज रफ्तार बस ने मारी मोटरसाइकिल को टक्कर, 1 की मौत, दूसरा घायल