जब तक देश के हर किसान का कर्ज माफ नहीं होता, मोदी जी को सोने नहीं दूंगा: राहुल गांधी

नई दिल्लीः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि उन्होंने साढ़े चार साल के दौरान किसानों का कर्ज माफ नहीं किया है जबकि उनकी पार्टी ने तीन राज्यों में सरकार गठित होने के 6 घंटे के भीतर कर्ज माफ करके दिखाया है। राहुल ने आज संसद भवन परिसर में पत्रकारों से कहा कि मोदी सरकार ने सिर्फ चुनिंदा उद्योगपतियों का साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए का कर्ज माफ किया है जबकि किसान का एक रुपए का कर्ज भी माफ नहीं किया गया। इसलिए उन्होंने अनिल अंबानी के 45,000 करोड़ रुपया तो माफ कर दिया, लेकिन किसानों पर ध्यान नहीं दिया। राहुल ने कहा कि हम पीएम मोदी की रातों की नींद उड़ा देंगे।


राफेल को लेकर केंद्र द्वारा सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देने पर राहुल ने कहा कि अभी तो टाइपिंग में और भी गलतियां निकलेंगी जो सबके सामने आएंगी। तीन राज्यों के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत को उन्होंने किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार और युवाओं की जीत करार दिया तथा कहा कि चुनावी सभाओं में उन्होंने अपनी पार्टी की सरकार के गठन के 10 दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ करने की बात की थी।

उनकी पार्टी को जहां जनादेश मिला वहां सरकार गठन के छह घंटे के भीतर कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार ने दो राज्यों में किसानों के कर्ज माफ करने की घोषणा कर दी और तीसरे राज्य में इस दिशा में तेजी से काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि देश की जनता ने मोदी को उम्मीद के साथ सत्ता सौंपी थी और उनके पास भी किसानों के हित में काम करने का विकल्प था। लेकिन, उन्होंने किसानों के लिए काम करने की बजाय राफेल के जरिये अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने और नोटबंदी के जरिए दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला कर चोरी कराने का विकल्प चुना तथा किसानों को नजर अंदाज कर दिया।

Related Stories:

RELATED कर्ज से परेशान किसान ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, परिवार में पसरा मातम