किताबों में पुलवामा शहीदों की शौर्यगाथाएं अगले शिक्षा सत्र से

जयपुर:पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों की शौर्यगाथाएं अगले शिक्षा सत्र से ही राजस्थान की स्कूली पाठ्यपुस्तकों में शामिल कर ली जाएंगी। इस दिशा में काम शुरू कर दिया गया है।         

 

राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने बताया कि शहीदों की जीवनियां व उनसे जुड़ी कहानियों को पाठ्यक्रम में शामिल करने के प्रस्ताव पाठ्यपुस्तक निर्धारण समितियों को दिए गए थे जिन्हें स्वीकार करके कार्य शुरू कर दिया गया है।         

 

डोटासरा ने हाल ही में कश्मीर के पुलवामा में आंतंकवादी हमले में शहीद हुए राजस्थान के पांच जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए यह घोषणा की थी। सरकारी बयान के अनुसार माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की पाठ्यक्रम निर्धारण समिति को इस संबंध में प्रस्ताव भी भिजवाया गया था जिसे स्वीकार करते हुए शहीदों की गौरव गाथाएं लिखने का काम शुरू कर दिया गया है। 

Related Stories:

RELATED NCERT की 25,000 से अधिक नकली किताबें जब्त