सिद्धू के हक में उतरे कन्हैया कुमार, भाजपा की नीति पर उठाए सवाल

चंडीगढ़(पाल):लोगों की सोच को आर्टीफिशियल इंटैलीजैंसी का इस्तेमाल करके बदलना आज काफी आसान हो गया है, पहले ऐसा नहीं था।

पंजाब कला भवन में आयोजित वल्र्ड पंजाबी कांफ्रैंस में पहुंचे जे.एन.यू. के पूर्व काऊंसिल प्रैजीडैंट कन्हैया कुमार की मानें तो आर्टीफिशियल इंटैलीजैंसी बुरी नहीं है लेकिन उसके अनुसार अपनी सोच को बदलना अच्छा नहीं है। अल्टर्नेट राजनीति पर उन्होंने कहा कि आज खुद का प्रचार करना बहुत जरूरी हो गया है। उन्होंने पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर कहा कि यदि वह पाकिस्तान गए तो उन्हें देशद्रोही घोषित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी गई लेकिन जब प्रधानमंत्री खुद जाते हैं तो उसे राजनीतिक रणनीति बताते हैं। 

बता दें कि पुलवामा आत्मघाती हमले में सी.आर.पी.एफ . के जवानों के शहीद होने की घटना की व्यापक निंदा और पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई की मांग के बीच पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अलग राय रखी थी। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान के साथ बातचीत जारी रहनी चाहिए। भारत व पाकिस्तान के बीच मुद्दों का स्थायी हल खोजने की जरूरत है। उन्होंने कहा था कि आतंकियों का कोई देश, धर्म और जाति नहीं होती।

Related Stories:

RELATED भाकपा ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, कन्हैया कुमार का नाम नहीं