पिछले साल हर दिन 2,200 करोड़ रुपए बढ़ी भारतीय धनकुबेरों की कुल संपत्ति

नई दिल्लीः भारतीय धनकुबेरों की संपत्ति में साल 2018 में रोजाना 2,200 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी देखी गई। ऑक्सफैम की स्टडी में सामने आया है कि देश के एक प्रतिशत अमीरों की संपत्ति में पिछले साल 39 प्रतिशत का इजाफा हुआ, वहीं देश की सबसे गरीब मानी जाने वाले लोगों की संपत्ति में सिर्फ तीन प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई। इस स्टडी के मुताबिक, भारत के 9 अमीर लोगों के पास देश की आधी आबादी जितनी संपत्ति है।

वैश्विक स्तर पर 2018 में करोड़पतियों की संपत्ति में 12 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई। वहीं सबसे गरीब मानी जाने वाली जनसंख्या की संपत्ति में 11 प्रतिशत की गिरावट देखी गई। दावोस में आयोजित होने वाले 5 दिवसीय वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम से पहले ऑक्सफैम ने यह रिपोर्ट जारी की है। इस स्टडी में आगे कहा गया है कि भारत की सबसे गरीब 10 प्रतिशत आबादी यानी करीब 13.6 करोड़ लोग 2004 से लगातार कर्ज में डूबे हुए हैं।

ऑक्सफैम ने दावोस में पहुंच रहे राजनीतिक और बिजनेस नेताओं से अपील की है कि वे अमीरों और गरीबों के बीच बढ़ते अंतर को कम करने की दिशा में काम करें। ऑक्सफैम ने कहा कि इस बढ़ते अंतर के चलते गरीबी के खिलाफ जंग प्रभावित हो रही है और वैश्विक अर्थव्यवस्था पर इसका बुरा असर पड़ रहा है।

ऑक्सफैम के इंटरनेशनल एग्जीक्यूटिव विनी ब्यानिमा ने कहा कि 'नैतिक रूप से क्रूर' है कि भारत में गरीब जहां दो वक्त के खाने के लिए जूझ रहे हैं वहीं कुछ अमीरों की संपत्ति लगातार बढ़ती जा रही है। उन्होंने कहा, "यदि 1 प्रतिशत अमीरों और देश के अन्य लोगों की संपत्ति में यह अंतर बढ़ता गया तो इससे देश की सामाजिक और लोकतांत्रिक व्यवस्था पूरी तरह चरमरा जाएगी।"

दुनिया में करीब 26 लोग ऐसे हैं जिनके पास 3.8 बिलियन लोगों से भी अधिक संपत्ति है। पिछले साल ये आंकड़ा 44 का था। उदाहरण के तौर पर अमेजॉन के फाउंडर Jeff Bezos के पास अभी 112 बिलियन डॉलर की संपत्ति है, जो कि इथोपिया जैसे देश के कुल हेल्थ बजट के बराबर है। जहां पर 115 मिलियन की जनसंख्या है। अगर भारत में देखें तो 10 फीसदी लोगों के पास देश की कुल 77.4 फीसदी संपत्ति है, इनमें भी एक फीसदी के पास कुल 51.53 फीसदी संपत्ति है जबकि 60 फीसदी लोगों के पास सिर्फ 4.8 फीसदी संपत्ति है।

रिपोर्ट के अनुसार, 2018 से 2022 के बीच भारत में रोजाना 70 अमीर बढ़ेंगे। 2018 में भारत में करीब 18 नए अरबपति बने हैं, देश में इनकी कुल संख्या अब 119 हो गई है। जिनके पास 28 लाख करोड़ की कुल संपत्ति है।

Related Stories:

RELATED क्या सचमुच दिखावे के लिए घूमना पसंद करते हैं Indian Travels!