Kundli Tv- भौम प्रदोष व्रत: भगवान शिव को खुश करने के लिए इस विधि से करें पूजा

ये नहीं देखा तो क्या देखा (VIDEO)
हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार हर महीने के कृष्ण और शुक्ल दोनों पक्षों की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत किया जाता है। आज यानि कार्तिक शुक्ल पक्ष के महीने की 20 अक्टूबर 2018 को प्रदोष व्रत मनाया जा रहा है। शास्त्रों की मानें तो इस दिन व्रत पूजन करने से व्यक्ति को दो गायों के दान के समान फल मिलता है। चूंकि ये व्रत आज यानि मंगलवार के दिन पड़ रहा है इसलिए इसे भौम प्रदोष व्रत भी कहा जाता है। 


भौम प्रदोष व्रत का महत्व
ज्योतिष के अनुसार इस दिन व्रत रखने और शिव की आराधना करने से भगवान की कृपा हमेशा बनी रहती है और मोक्ष की प्राप्ति होती है। इसके साथ अगर ये व्रत करने से परिवार हमेशा आरोग्य रहता है और साथ ही सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। 

प्रदोष व्रत में पूजा
प्रातः काल उठकर सभी कामों से निवृत्त होकर भगवान शिव का स्मरण करें और साथ  व्रत का संकल्प करें। ध्यान रहे कि इस दिन भूलकर भी कोई आहार न लें। शाम को सूर्यास्त होने के एक घंटें पहले स्नान करके सफ़ेद कपडे पहनें और घर के ईशान कोण दिशा में पूजा करने की जगह बनाएं। सबसे पहले गंगाजल से उस जगह को शुद्ध करें और फिर गाय के गोबर से लिपें। इसके बाद पद्म पुष्प की आकृति को पांच रंगों से मिलाकर चौक को तैयार कर लें।

अब उत्तर-पूर्व की दिशा में कुशा के आसन पर बैठकर भगवान शिव की पूजा करें। भगवान शिव का जलाभिषेक करें साथ में ॐ नम: शिवाय: का जाप भी करते रहें। इसके बाद विधि-विधान के साथ शिव की पूजा करें फिर व्रत की कथा को सुनकर आरती करें और प्रसाद सभी को बाटें।
तुलसी विवाह विशेष : तुलसी पूजन की सही विधि जानने के लिए यहां click करें  (VIDEO)
 

Related Stories:

RELATED Kundli Tv- क्या आपने देखा है सबसे ऊंचा शिव मंदिर