पीडीपी पर पड़ रही है इस्तीफों की मार, 7 और नेताओं ने दिया त्यागपत्र

श्रीनगर :पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के नेतृत्व वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पी.डी.पी.) से नेताओं द्वारा इस्तीफा दिए जाने का दौर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। सोमवार को 7 और नेताओं ने पी.डी.पी. से इस्तीफा दे दिया। बता दें कि प्रदेश में भाजपा-पी.डी.पी. सरकार के गिरने के बाद से पी.डी.पी. से कई वरिष्ठ नेताओं सहित दर्जनों नेताओं ने इस्तीफा दे दिया है। वहीं, गत रात अमीरा कदल निर्वाचन क्षेत्र से पूर्व विधायक अल्ताफ बुखारी को पी.डी.पी. द्वारा निष्कासित किए जाने के बाद से इस निर्वाचन के जोन अध्यक्ष मोहम्मद अश्रफ डार द्वारा गत रात इस्तीफा देने के बाद आज अमीरा कदल जोन समिति में जनरल और नियुक्त सभी सदस्यों ने पी.डी.पी. से इस्तीफा दे दिया। 

सदस्यों ने पी.डी.पी. अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को लिखे गए पत्र में कहा कि हमारे जोन अध्यक्ष मोहम्मद अश्रफ डार के इस्तीफे के बाद हम पी.डी.पी. जोन समिति अमीराकदल के नियुक्त सदस्यों के साथ साथ जनरल सदस्य पार्टी की मूल सदस्यता से 21 जनवरी 2019 के प्रभाव से इस्तीफा दे रहे हैं।  जोन समिति के सदस्यों जिन्होने पी.डी.पी. से इस्तीफा दिया में हाजी अली मोहम्मद बगव (उप जोन अध्यक्ष), शेख सजाद (उपाध्यक्ष), हिलाल अहमद तांत्रे (महासचिव), अमान उल्लाह शाह (आयोजन सचिव), इमरान अली (प्रचार सचिव) और बशीर अहमद लोन (कोषाध्यक्ष) शामिल हैं।  इस बीच श्रीनगर के हब्बाकदल निर्वाचन क्षेत्र से पी.डी.पी. जोन अध्यक्ष ने भी आज पार्टी से इस्तीफा दे दिया। 

 


महबूबा को लिखे पत्र में जीलानी कुमार ने कहा कि महोदया, मैं आपको यह बताने के लिए लिख रहा हूं कि मैंने हब्बाकदल निर्वाचन क्षेत्र के जोन अध्यक्ष के रुप में जम्मू कश्मीर पी.डी.पी. से इस्तीफा देने का फैसला लिया है। साथ ही मैंने पार्टी के मूल सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों के मद्देनजर पार्टी नेतृत्व अपने मामलों को जिस तरह से चला रहा है , मैं पी.डी.पी. की मूल सदस्यता से इस्तीफा दे रहा हूं। 

Related Stories:

RELATED भड़ाना पर इस्तीफा वापसी का दबाव