ओमान ओपन : साथियान ने जीता कांस्य, अर्चना ने हासिल किया पहला रजत

मस्कट : जी साथियान ने रविवार को आईटीटीएफ चैलेंज प्लस ओमान ओपन के पुरूष एकल सेमीफाइनल में स्वीडन के माटियास फ्लैक के खिलाफ कड़ी मशक्कत की लेकिन वह चुनौती से उबर नहीं सके जिससे उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। चौथी वरीयता प्राप्त साथियान माटियास फ्लैक से 8-11, 11-7, 9-11, 11-9, 9-11, 11-9, 10-12 से हार गए।

अर्चना कामत का आईटीटीएफ चैलेंजर ओमान ओपन में शानदार सफर अंडर-21 महिला एकल के फाइनल में सीधे गेम में हारकर समाप्त हो गया। वह शनिवार को जापान की शीर्ष वरीय सातसुकी ओडो से 7-11, 8-11, 6-11 से पराजित हो गयीं। इससे यह भारतीय अपने पहले बड़े टूर्नामेंट में रजत पदक हासिल करने में सफल रही। जनवरी में कटक में राष्ट्रीय महिला एकल खिताब जीतने के बाद यह उनका बड़ा टूर्नामेंट था। 

क्वार्टरफाइनल में साथियान ने फ्रांस के इमैनुअल लेबेसन की चुनौती 4-1 से हराकर समाप्त की थी। राउंड 16 में उन्होंने एंथोनी अमलराज को 4-1 से मात दी थी। एक अन्य भारतीय अचित कमल राउंड 16 में क्रोएशिया के पुकार तैमिस्लोव से 1-4 से हारकर बाहर हो गये। महिला एकल में भारत को निराशा मिली क्योंकि मधुरिका पाटकर और रिती शंकर मुख्य ड्रा के पहले दौर की बाधा पार करने में असफल रहीं। पुरूष युगल में साथियान और शरत क्वार्टरफाइनल में रूस के डेनिस इवोनिन और व्लादिमीर सिदोरेंको की जोड़ी से 2-3 से हार गये। मिश्रित युगल के पहले दौर में अर्चना और साथियान की जोड़ी भी बाहर हो गए।  

Related Stories:

RELATED मीराबाई का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, लेकिन कांस्य से चूकी